Breaking
  • इलाहाबाद के माघ मेला में एक टेंट में लगी आग, कोई हताहत नहीं
  • रद्द हुई AAP के 20 विधायकों की सदस्यता, दिल्ली में अब क्या होगा! पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों की सदस्यता रद्द, अधिसूचना जारी

राजस्थान: स्थानीय निकाय उप-चुनावों में BJP का सूपड़ा साफ, जिला परिषद की सभी सीटों पर कांग्रेस का कब्जा

  |  Updated On : December 19, 2017 11:09 PM
राजस्थान में BJP को झटका, स्थानीय चुनावों में लहराया कांग्रेस का परचम (पीटीआई)

राजस्थान में BJP को झटका, स्थानीय चुनावों में लहराया कांग्रेस का परचम (पीटीआई)

ख़ास बातें
  •  राजस्थान में कांग्रेस ने सत्तारुढ़ पार्टी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को झटका देते हुए जिला परिषद की चारों सीटों पर कब्जा कर लिया है
  •  कांग्रेस ने जिला परिषद की सभी 4 सीटें, 27 में से 16 पंचायत समितियों और छह नगर पालिकाओं की सीटों पर जीत हासिल कब्जा कर लिया है

जयपुर:  

राजस्थान में कांग्रेस ने सत्तारुढ़ पार्टी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को झटका देते हुए जिला परिषद की चारों सीटों पर कब्जा कर लिया है।

कांग्रेस ने जिला परिषद की सभी 4 सीटें, 27 में से 16 पंचायत समितियों और छह नगर पालिकाओं की सीटों पर जीत हासिल कब्जा कर लिया है। वहीं सत्तारूढ बीजेपी 10 पंचायत समिति और सात नगरपालिका सीटों पर जीत दर्ज कर सकी।

राज्य चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक भगवा पार्टी चारों जिला परिषद की सीट में से एक भी सीट बचाने में सफल नहीं रही, जबकि पिछले चुनावों में उसका इन चारों सीटों पर कब्जा था।

17 दिसंबर को 27 पंचायत समितियों, 14 नगरपालिकाओं और चार जिला परिषद के लिए उपचुनाव हुए थे।

चुनाव के नतीजों के बाद राजस्थान ईकाई के प्रेसिडेंट सचिन पायलट ने बताया, 'स्थानीय चुनाव के नतीजों ने यह साबित किया है कि राजस्थान में बीजेपी की उलटी गिनती शुरू हो गई है। कांग्रेस ने पिछले चार सालों के दौरान लोगों की भावनाओं को अभिव्यक्ति दी है और उन्हें पार्टी पर पूरा विश्वास है।'

और पढ़ें: राहुल ने कहा, PM के 'खोखले विकास मॉडल' को गुजरात ने किया खारिज

पायलट ने अलवर और अजमेर संसदीय सीट के साथ मंडलगढ़ विधानसभा सीट पर होने वाले उप-चुनाव में भी समान नतीजों की उम्मीद जताई। दोनों संसदीय सीट बीजेपी के सांसदों और मंडलगढ़ सीट, बीजेपी विधायक की आकस्मिक मृत्यु के बाद खाली हुई है।

स्थानीय निकाय के नतीजे बीजेपी के लिए झटका है क्योंकि वह पहले भी बारां जिले में दो नगरपालिका वार्ड्स चुनाव हार चुकी है जो मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया के सांसद बेटे दुष्यंत सिंह का गढ़ माना जाता है।

हालांकि राजस्थान बीजेपी के प्रवक्ता आनंद शर्मा ने कहा कि नतीजे पार्टी के लिए ठीक रहे हैं क्योंकि वह कांग्रेस की कई सीटों पर कब्जा करने में सफल रही है।

और पढ़ें: गुजरात चुनाव के बाद मटियामेट हुई AAP की राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा

RELATED TAG: Congress, Rajasthan Civic Polls, Zila Parishad, Congress Rajasthan,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो