SC के जजों की टिप्पणियां चिंताजनक, जस्टिस लोया केस की उच्च स्तरीय जांच जरुरी: राहुल गांधी

  |   Updated On : January 13, 2018 01:59 AM
ख़ास बातें
  •  राहुल गांधी ने SC के 4 जजों द्वारा चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा पर लगाए आरोपों पर चिंता जताई
  •  उन्होंने कहा कि जस्टिस लोया केस की उच्च स्तरीय जांच कराए जाने की ज़रुरत है 

 

नई दिल्ली:  

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों द्वारा चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा लगाए आरोपों पर चिंता जताई है। उन्होंने प्रेस कांफ्रेस में कहा, 'देश के सभी नागरिक जिन्हें लोकतंत्र से प्यार है इस मुद्दे की तरफ देख रहे हैं, इस मामले को सुलझाने की ज़रुरत है।'

राहुल गांधी ने कहा, 'यह अभूतपूर्व है, माननीय न्यायाधीशों द्वारा उठाए गए मुद्दों को ध्यान से देखे जाने की जरूरत है, यहां तक कि जस्टिस लोया की मृत्यु मामले की उच्च स्तरीय जांच कराई जानी चाहिए।'

वहीं, कांग्रेस के नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, 'सुप्रीम कोर्ट के माननीय जजों की टिप्पणीयां बेहद ही परेशान करने वाली है।'

जानिए कौन हैं वो 4 जज जिन्होंने भारत के चीफ जस्टिस पर उठाए सवाल

इससे पहले शुक्रवार सुबह घटे घटनाक्रमों में सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों, जस्टिस जे चेलमेश्वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन लोकुर और जस्टिस कुरियन जोसफ ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा पर गंभीर आरोप लगाए थे।

सुप्रीम कोर्ट के चारों जजों ने प्रेस कांफ्रेस में कहा था कि CJI को सुधारात्मक कदम उठाने के लिए कई बार मनाने की कोशिश की गई, लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे प्रयास विफल रहे। उन्‍होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में प्रशासन सही से नहीं चल रहा है।

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग लगाए जाने के सवाल पर जस्टिस जे चेलमेश्वर ने कहा कि यह देश तय करे।

जस्टिस लोया के मौत की जांच के मामले की सुनवाई को लेकर पूछे गए एक सवाल पर कि क्या ये मामला सुनवाई करने वाली बेंच को लेकर उठे विवाद पर नाराज़गी है तो जस्टिस गोगोई ने कहा, 'हां।'

कौन हैं जस्टिस लोया? 

जस्टिस बृजगोपाल लोया सीबीआई स्पेशल कोर्ट के जज थे। जस्टिस लोया की मौत 1 दिसंबर 2014 को महाराष्ट्र के नागपुर में उस वक्त हुई थी जब वो अपने सहयोगी की बेटी की शादी में शिरकत करने जा रहे थे।

जिस वक्त उनकी संदिग्ध हालत में मौत हुई उस वक्त वो चर्चित सोहराबुद्दीन शेख मुठभेड़ मामले को देख रहे थे। इस मामले में बीजेपी राष्ट्रीय अमित शाह आरोपी थे, जिन्हें बाद में मामले से बरी कर दिया गया था।

इसके अलावा अन्य आरोपियों को भी बरी कर दिया गया था। इसमें गुजरात के कई शीर्ष पुलिस अधिकारी शामिल थे।

यह भी पढ़ें: इंदिरा गांधी बनेंगी विद्या बालन, किताब के अधिकार हासिल किए

कारोबार से जुड़ी ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

RELATED TAG: Congress, Rahul Gandhi, Supreme Court, Sc Judges, Dipak Misra,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो