88 फीसदी भारतीय मानते है वोटर आई डी कार्ड के साथ आधार की लिंकिंग को सही

  |   Updated On : December 17, 2017 04:58 AM

ख़ास बातें
  •  88 फीसदी भारतीय मानते है वोटर आई डी कार्ड के साथ आधार की लिंकिंग को सही
  •  लोगों का मानना इससे खत्म होगी डुप्लेकेसी और इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग में मदद 

नई दिल्ली:  

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग की सुविधा और मतदान की डुप्लेकेसी के धोखे से बचने के लिए चुनाव आयोग के वोटर आईडी कार्ड के साथ आधार को लिंक कराने के कदम को अधिकतर भारतीय नागरिकों का समर्थन मिल रहा है।

चुनाव आयोग ने फरवरी 2015 में एनईआरपीएपी (राष्ट्रीय निर्वाचक नामावली परिशोधन व प्रमाणीकरण कार्यक्रम) के तहत वोटर आईडी कार्ड को आधार से लिंक कराने के गाइडलाइंस जारी किए थे।

हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने इस फैसले पर अगस्त 2015 में रोक लगा दी थी और कहा था कि आधार कार्ड का उपयोग उत्तरदाताओं द्वारा पीडीएस योजना के अलावा किसी भी उद्देश्य के लिए नहीं किया जाएगा और विशेष रूप से अनाज के वितरण और खाना पकाने के ईधन जैसे की केरोसिन लेने के लिए किया जाएगा।

इस साल जुलाई में भारतीय चुनाव आयोग (ईआईसी) ने सुप्रीम कोर्ट में अपने आवेदन के साथ उन मतदाताओं की सूची को भी जमा किया है जिन्होंने आधार कार्ड लिंक कर दिया।

लोकल सर्किल्स के एक सर्वे के मुताबिक, नागरिकों का मानना है कि वोटर आईडी कार्ड के साथ आधार का लिंक करने से मतदान में फ्रॉड होने की संभावना कम हो जाती है, जो आजकल के चुनाव में सबसे बड़ी चुनौती है।

इसे भी पढ़ें: UIDAI ने एयरटेल, एयरटेल पेमेंट बैंक की KYC सेवा रोकी

सर्वे में पाया कि 88 फीसदी भारतीय इस फैसले के समर्थन में हैं, वहीं केवल 10 फीसदी लोग इसका विरोध कर रहे हैं।

इस सवाल पर कुल 9,160 मत मिले, जिसमें सिर्फ दो प्रतिशत अपनी राय व्यक्त करने के लिए नहीं चुना गया।

यह माना जाता है कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग से नागरिकों के लिए मतदान प्रक्रिया को आसान बना देगा। यह मतदान के प्रतिशत में भी वृद्धि करेगा, क्योंकि लोग अपने कंप्यूटर या स्मार्ट फोन से दुनिया में कहीं भी बैठे वोट दे पाएंगे।

इसे भी पढ़ें: अगड़ी जाति के गरीबों को भी आरक्षण देने पर करें विचार: HC

RELATED TAG: Aadhaar Linking,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो