CAG ने की रेलवे की खिंचाई, कहा- ज्यादातर रेल हादसों के लिए खराब पटरियां जिम्मेदार

  |   Updated On : March 13, 2018 05:05 PM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:  

रेल पटरियों के रखरखाव में लापरवाही को लेकर संसद में पेश किए गए महालेखागार परीक्षक यानी की सीएजी (CAG) रिपोर्ट में इसे जल्द से जल्द ठीक करने की नसीहत दी गई है।

संसद में पेश सीएजी की रिपोर्ट में बताया गया है कि साल 2014-15 और 16-17 में रेलवे के पांच जोन में जो 16 रेल हादसे हुए हैं उसमें ज्यादातर खराब पटरियों और रखरखाव की कमी की वजह से हुए।

सीएजी की रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि रेलवे ट्रैक में कमजोरी की वजह से होने वाले खतरे को देखते हुए 294 रूटों पर स्थायी गति प्रतिबंध (पीएसआर) को लागू किया गया है।

रेल ट्रैक को लेकर यह ऑडिट 1 अप्रैल से 31 मार्च 2016 के बीच किया गया है। इस आधार पर सीएजी ने रेल मंत्रालय को 29 चुनिंदा बेहद व्यस्त ट्रैक (HDN) और 8 कम व्यस्त ट्रैक पर मरम्मत के काम को तरजीह देने का सुझाव दिया है।

और पढ़ें- जया विवाद: नरेश अग्रवाल पर भड़की रेणुका चौधरी, कहा- अवसरवादी होना मर्द की पहचान नहीं

सीएजी रिपोर्ट के मुताबिक यह तथ्य भी सामने आया है कि भारतीय रेल के 37 चयनित वर्गों में रखरखाव को सुदृढ़ बनाने और निर्धारित दिशा-निर्देशों को कड़ाई से लागू करने की जरूरत है। रेलवे अधिकारियों दिशा-निर्देशों के मुताबिक ट्रैकों का निरीक्षण नहीं करते हैं।

और पढ़ें: न्यूनतम बैलेंस पर लगने वाली पेनाल्टी में SBI ने की 75% तक की कटौती

RELATED TAG: Cag Audit, Rail Track Maintenance, North Central Railway,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो