Breaking
  • आरजेडी कार्यकर्ताओं के हंगामे के बाद सीएम नीतीश के आवास पर बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था
  • NDA में शामिल हुई जेडी-यू, 'बागी' शरद यादव के खिलाफ नहीं हुई कार्रवाई -Read More »
  • शुक्रवार की क्लोजिंग के मुकाबले 25 फीसदी प्रीमियम पर बायबैक करेगी इंफोसिस
  • यूपी में ख़राब कानून व्यवस्था को लेकर समाजवादी पार्टी के नेताओं ने राज्यपाल से की मुलाक़ात
  • इंफोसिस के बोर्ड ने 13,000 करोड़ रुपये के बायबैक को दी मंजूरी -Read More »
  • उत्तर प्रदेश के गोरखपुर पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी
  • जम्मू-कश्मीर: शोपियां ज़िले के 9 गांवो में सुरक्षाकर्मियों ने शुरु किया सर्च ऑपरेशन

तेजस्वी यादव के समर्थन में उतरे BJP सांसद शत्रुघ्न सिन्हा, कहा-राजनीतिक साजिश हो सकती है FIR

By   |  Updated On : July 14, 2017 08:24 PM
तेजस्वी यादव के बचाव में उतरे बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा (फाइल फोटो)

तेजस्वी यादव के बचाव में उतरे बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  भ्रष्टाचार के मामले में घिरे तेजस्वी यादव के समर्थन में उतरे BJP सांसद शत्रुघ्न सिन्हा
  •  सीबीआई की एफआईआर में नामजद किए जाने के बाद बीजेपी कर रही है तेजस्वी के इस्तीफे की मांग

नई दिल्ली :  

बिहार के उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के इस्तीफे को लेकर चल रही सियासी उठापटक के बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद शत्रुघ्न सिन्हा उनके बचाव में उतर आए हैं।

सिन्हा ने ऐसे समय में तेजस्वी का बचाव किया है, जब बीजेपी उनके खिलाफ इस्तीफे को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर दबाव बना रही है।

सिन्हा ने कहा, 'यह कुछ लोगों की राजनीतिक चाल हो सकती है। इसलिए मैं इंतजार करने के लिए कहूंग।' सिन्हा इससे पहले भी कई मौकों पर बीजेपी के लाइन के खिलाफ जाकर पार्टी के लिए मुश्किलें खड़ी करते रहे हैं।

बीजेपी तेजस्वी यादव के खिलाफ कार्रवाई नहीं किए जाने को लेकर नीतीश कुमार पर हमलावर है। लालू यादव के बेटे तेजस्वी के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआई ने एफआईआर दर्ज किया है। एजेंसी ने बतौर रेल मंत्री लालू यादव के कार्यकाल में टेंडरों में हुई हेरा-फेरी के मामले में तेजस्वी यादव के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है।

जांच एजेंसी की तरफ से हुई एफआईआर में लालू यादव, तेजस्वी यादव और राबड़ी देवी के अलावा अन्य लोगों के नाम हैं।

तेजस्वी के खिलाफ एफआईआर होने के बाद राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के विधायक दल की बैठक हुई थी, जिसमें पार्टी ने साफ कर दिया था कि वह इस्तीफा नहीं देने जा रहे हैं। वहीं जनता दल यूनाइटेड (जेडी-यू) की बैठक में पार्टी ने कार्रवाई के लिए आरजेडी को चार दिनों का समय दिया था। 

आरजेडी ने कहा, तेजस्वी नहीं देंगे इस्तीफा, पार्टी इस पर चर्चा भी नहीं कर रही

तेजस्वी के इस्तीफे को लेकर जेडी-यू और आरजेडी के बीच घमासान की स्थिति बनी हुई है। तनाव की इस स्थिति में दोनों दलों की तरफ से बयानबाजी का दौर जारी है, जिसे देखते हुए महागठबंधन के टूटने की अटकलें जोर पकड़ने लगी है।

तेजस्वी पर इस्तीफे का दबाव बढ़ा, जेडीयू बोली- 5 मिनट में नीतीश सत्ता छोड़ देंगे

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो