बरेली के काजी का अब फरमान, मदरसों में 15 अगस्त मनाए लेकिन नहीं गाएं राष्ट्रगान

By   |  Updated On : August 13, 2017 01:23 PM
मदरसों में 15 अगस्त मनाने के फरमान पर विवाद (फाइल फोटो)

मदरसों में 15 अगस्त मनाने के फरमान पर विवाद (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद के राज्य के सभी मदरसों में स्वतंत्रता दिवस मनाने और उसकी वीडियोग्राफी कराने के विवादित निर्देश के बाद अब बरेली के काजी ने लोगों को बिना राष्ट्रगान गाए स्वतंत्रता दिवस मनाने को कहा है।

न्यूज एजेंसी एएनआई ने जमात रजा-ए-मुस्तफा के प्रवक्ता नासिर कुरैशी के हवाले से बताया, 'बरेली शहर काजी अस्जद रजा खान ने बरेली के मदरसों को स्वतंत्रता दिवस मनाने को कहा है लेकिन राष्ट्र गान गाने से मना किया है। योगी सरकार ने तुगलकी बयान जारी किया है। राष्ट्रगान में कुछ शब्द अल्लाह पर हमारे विश्वास के खिलाफ हैं।'

इससे पहले उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद ने मदरसों को भेजे अपने पत्र में कहा था कि 15 अगस्त सभी मदरसों में हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाए। साथ ही सभी मदरसों में झंडारोहण और राष्ट्रगान किया जाए।

यह भी पढ़ें: मध्यप्रदेश: मदरसों में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर झंडा फहराकर तस्वीरें भेजने का आदेश जारी

यह पत्र जिला अल्पसंख्यक अधिकारी को भेज कर निर्देश दिया गया है कि सुबह 8 बजे झंडारोहण और राष्ट्रगान होगा और 8.10 पर स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाएगी। पत्र में कहा गया, 'मदरसों में स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाए। छात्र-छात्राएं राष्ट्रीय गीतों का प्रस्तुतिकरण हो।'

यूपी में आए इस फैसले के बाद मध्य प्रदेश मदरसा बोर्ड ने भी ऐसे ही फैसले जारी किए हैं।

मप्र मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष के अध्यक्ष प्रो. सैयद इमादउद्दीन की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि स्वतंत्रता दिवस के पावन मौके पर मदरसा संचालक अपने अपने मदरसों में राष्ट्रीय ध्वज फहराएं, सांस्कृतिक कार्यक्रम करना सुनिश्चित करें, तिरंगा रैली आयोजित करें या पूर्व से आयोजित रैली में अनिवार्य रूप से सम्मिलित हों।

यह भी पढ़ें: गोरखपुर: 48 बच्चों की मौत के बाद कॉलेज प्रिंसिपल ने दिया इस्तीफा

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो