जेटली ने LOC पर बिगड़े हालात का लिया जाएज़ा, कहा- भारतीय सेना हर हमले का मुंहतोड़ जवाब देने में सक्षम

By   |  Updated On : May 20, 2017 07:29 AM
रक्षा मंत्री जेटली ने एलओसी का दौरा किया

रक्षा मंत्री जेटली ने एलओसी का दौरा किया

नई दिल्ली:  

दो दिनों के जम्मू कश्मीर दौरे पर गए रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने सीजफायर के लगातार होते उल्लंघन को लेकर पाकिस्तान को चेतावनी दी है। रक्षा मंत्री जेटली ने कहा, 'सीजफायर का जवाब देने में भारतीय सेना कोई कोताही नहीं बरतेगी और कड़ा जवाब दिया जाएगा।' रक्षा मंत्री ने नियंत्रण रेखा का दौरा करने के बाद कहा, 'भारतीय सेना किसी भी तरह के घुसैपठ का जवाब देने में सक्षम है।'

कश्मीर में लगातार बढ़ती हिंसा को लेकर रक्षा मंत्री जेटली ने कहा, 'जो लोग देश के भीतर हिंसा फैला रहे हैं, उनसे भी सख्ती से निपटा जाएगा। उन्होंने कहा सेना की तरफ से कश्मीरी युवक को कथित तौर पर जीप से बांध कर घुमाने के मामले में जांच जारी है।' रक्षा मंत्री ने कहा अभी सेना की पहली प्राथमिकता वहां वोट करने के लिए आने वाले लोगों और प्रदर्शन कर रहे लोगों की सुरक्षा है। जेटली ने उम्मीद जताई की आने वाले दिनों में कश्मीर घाटी में एक बार फिर से शांति लौट आएगी।

एलओसी के दौरे के बाद रक्षा मंत्री जेटली ने कहा, 'दुश्मन को जवाब देने की भारतीय सेना की तैयारी और जज्बा देखकर मैं बेहद उत्साहित हूं। रक्षामंत्री मंत्री के मुताबिक भारतीय सेना सीमा पर होने वाले हर घुसपैठ और सीजफायर का जवाब देने के लिए पूरी तरह सक्षम है।'

जब दौरे के बाद पत्रकारों ने रक्षा मंत्री जेटली से जम्मू कश्मीर के हालात को लेकर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा, 'भारतीय सेना सीजफायर से लेकर राज्य में हिंसा फैलाने वाले लोगों से सख्ती से निपटने के लिए काम कर रही है।' जेटली ने कहा जो भी देश और राज्य की संप्रभुता के खिलाफ आतंकवाद और हिंसा को बढ़ावा दे रहे हैं उनके खिलाफ शख्त कार्रवाई की जाएगी।

जेटली ने कहा, 'राज्य में हिंसा को बढ़ावा देने में स्थानीय लोगों की मदद ली जा रही है लेकिन इससे नुकसान कश्मीर का ही हो रहा है। कश्मीर के लोगों की ही जिंदगी बर्बाद हो रही है और वो मारे जा रहे हैं।'

ये भी पढ़ें: जाधव मामले में इंटरनेशनल कोर्ट में पाकिस्तान की हार के बाद घर में घिरे नवाज

आतंकियों और घाटी में हिंसा के लिए होने वाले फंडिंग के सवाल पर जेटली ने कहा, 'सब जानते हैं कि हुर्रियत समेत कई आतंकवादी संगठनों को सीमा पार पाकिस्तान से इसके लिए पैसे मिल रहे हैं।'

जेटली ने कहा जब हमने उनकी फंडिंग को रोकने के लिए कार्रवाई की तो अब वो बौखला कर स्कूल और सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। उन्होंने कहा, 'अलगाववादियों की ये हरकत सिर्फ भारत के खिलाफ नहीं है बल्कि कश्मीरियों के खिलाफ भी है।'

ये भी पढ़ें: शिक्षा और स्वास्थ्य पर नहीं लगेगा टैक्स, जीएसटी काउंसिल में हुआ फैसला

जेटली ने घाटी वर्तमान हालात पर कहा, 'यहां के लोगों की हर समस्या को सुलझाने के लिए सरकार तैयार है लेकिन इसके लिए सबसे पहले घाटी में शांति का बहाल होना जरूरी है।'

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

अन्य ख़बरे

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो