बोफोर्स के 30 साल बाद मिले होवित्जर तोप का परीक्षण कर रही भारतीय सेना

By   |  Updated On : July 16, 2017 09:31 PM
होवित्जर तोप का भारतीय सेना कर रही है परीक्षण ( प्रतीकात्मक फोटो)

होवित्जर तोप का भारतीय सेना कर रही है परीक्षण ( प्रतीकात्मक फोटो)

ख़ास बातें
  •  पोखरण में होवित्जर तोप का परीक्षण कर रही है भारतीय सेना
  •  बोफोर्स घोटाले के तीस साल बाद भारतीय सेना को मिला है नया तोप

नई दिल्ली:  

बोफोर्स घोटाले के तीस साल बाद अमेरिका से मिले अल्ट्रा-लाइट (कम वजन वाला) होवित्जर तोप का परीक्षण राजस्थान के पोखरण में किया जा रहा है।

सेना के अधिकारियों के मुताबिक बोफोर्स तोपों के तीस साल बाद मिले इन होवित्जर तोपों का अभी परीक्षण चल रहा है और अगर परीक्षण पूरी तरह सफल रहा तो इन तोपों को चीन से सटे भारतीय सीमा पर तैनात किया जाएगा।

होवित्जर अल्ट्रा लाइट के परीक्षण में मुख्य तौर पर फायरिंग रेंज, रफ्तार, और गोले दागने की फ्रीक्वेन्सी जैसे अहम चीजों के डेटा को जमा किया जा रहा। सेना के अधिकारी के मुताबिक ये परीक्षण सितंबर महीने तक चलेगा।

ये भी पढ़ें: भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की 'दया याचिका' खारिज, पाक आर्मी चीफ ने शुरू किया 'सबूतों' का आकलन

गौरतलब है कि 155 मिलीमीटर और 39 कैलिबर के इन होवित्जर तोपों में भारतीय आयुध फैक्ट्री में बने गोलों का इस्तेमाल किया जाएगा। अगर ये परीक्षण सफल रहता है तो 2018 के सितंबर तक प्रशिक्षण के लिए भारतीय सेना को तीन और तोप मिलेंगे।

2019 के मार्च महीने से इन तोपों की तैनाती शुरू होगी। अमेरिका 2019 में हर महीने 5 तोप भारतीय सेना को सौपेगा और 2021 तक इन तोपों की आपूर्ति पूरी हो जाएगी।

भारत सरकार ने 5000 करोड़ रुपये की लागत से 145 होवित्जर तोपों का सौदा पिछले साल नवंबर में अमेरिका से किया था। इसी सौदे के तहत सेना को परीक्षण के लिए ये तोप दिया गया है।

ये भी पढ़ें: अमरनाथ यात्रियों को ले जा रही बस खाई में गिरी, 16 की मौत, 35 श्रद्धालु घायल

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो