Breaking
  • बिग बी ने 'कौन बनेगा करोड़पति' की रिकॉर्डिग शुरू की, शो में ऐसे करें रजिस्ट्रेशन -Read More »
  • कर्नाटक फ्लोर टेस्ट: कुमारस्वामी ने 117 वोटों के साथ जीता विश्वासमत -Read More »
  • होटल विवाद मामले में सेना ने मेजर गोगोई के खिलाफ कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के दिये आदेश -Read More »
  • सीबीएसई कक्षा 12 का परीक्षा परिणाम कल घोषित किया जाएगा
  • मेजर गोगोई के खिलाफ सेना ने कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी का आदेश दिया
  • केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के अध्यक्ष सुशील चंद्र को मिला एक साल का कार्यकाल विस्तार
  • कर्नाटक फ्लोर टेस्ट: कुमारस्वामी ने जीता विश्वास मत, 117 विधायकों ने समर्थन में किया वोट
  • तूतीकोरिन पुलिस फायरिंग के खिलाफ प्रदर्शन का रही DMK नेता कनिमोझी को पुलिस ने लिया हिरासत में
  • कनाडा: इंडियन रेस्टोरेंट में हुआ धमाका, 15 घायल
  • तेल का खेल जारी, 12 वें दिन बढ़ोतरी के बाद 80 रु के पार पहुंचा पेट्रोल, 70 रु के पार डीजल, पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • कर्नाटक विधानसभा में सीएम कुमारस्वामी आज साबित करेंगे बहुमत, पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • ट्रंप के बैठक रद्द करने के बावजूद किम मुलाकात के लिए तैयार, पढ़ें पूरी खबर -Read More »

सांप्रदायिक सदभाव की मिसाल है अमरनाथ यात्रा, बिना मुस्लिमों के पूरे नहीं होते बाबा बर्फानी के दर्शन

  |   Updated On : July 11, 2017 04:28 PM
बस के ड्राइवर सलीम शेख

बस के ड्राइवर सलीम शेख

ख़ास बातें
  •  अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले में ड्राइवर सलीम शेख ने बचाई कई लोगों की जान
  •  अमरनाथ यात्रा में कई मुस्लिम करते हैं हिन्दू तीर्थयात्रियों की मदद

नई दिल्ली:  

अमरनाथ यात्रा से लौट रहे श्रद्धालुओं से भरे एक बस पर जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में सोमवार की रात आतंकियों ने हमला कर दिया। इस हमले में 7 लोग मारे गए। हमला और बड़ा हो सकता था अगर बस के ड्राइवर सलीम शेख बहादुरी ना दिखाते।

बस ड्राइवर सलीम शेख ने अपने सूझ-बूझ से बिना डरे हमले के बाद गाड़ी की रफ्तार और बढ़ा दी और तब-तक बस नहीं रोकी जब-तक उसे उन्होंने सुरक्षित स्थान पर नहीं पहुंचा दिया।

धर्म के नाम जो लोग हिंसा फैलाते हैं उन्हें सलीम से सीखने की जरूरत है कि असली धर्म लोगों की जान बचाना है क्योंकि उस बस में सिर्फ सलीम मुस्लिम था। बाकी सभी हिन्दू तीर्थयात्री थी फिर भी उसने अपने जान की बाजी लगा दी।

इतना ही नहीं अमरनाथ यात्रा के दौरान आपको पूरे रास्ते में हिन्दू-मुस्लिम भाईचारे की अलग मिसाल देखने को मिलेगी। अमरनाथ यात्रा के पूरे रास्ते में मुस्लिम समुदाय के लोग यात्रा कर रहे हिन्दू तीर्थ यात्रियों के लिए लंगर का आयोजन करते हैं।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तानी आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने कराया अमरनाथ यात्रियों पर हमला, इस्माइल है मास्टरमाइंड

यात्रा में इस्तेमाल होने वाले अधिकांश चीजों की दुकान भी मुस्लिम समुदाय के लोग ही चलाते हैं। अमरनाथ यात्रा कर रहे जो लोग वहां से प्रसाद खरीद कर लाते हैं वो प्रसाद भी मुस्लिम ही बेचते हैं।

ग्वालियर का रहने वाला एक ऐसा भी मुस्लिम परिवार है जो हर साल हज यात्रा की तरह ही अमरनाथ यात्रा भी करता है। नवाब खान नाम का शख्स अपने परिवार के साथ बम-बम भोले सेवा दल के माध्यम से बेहद कम पैसे में गरीब हिन्दुओं को भी अमरनाथ यात्रा कराते हैं साथ ही खुद भी कई सालों से पवित्र अमरनाथ गुफा में बाबा बर्फानी के दर्शन करते हैं।

ये भी पढ़ें: गोपाल कृष्ण गांधी बने विपक्ष के उप-राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार, जानिए उनके जीवन से जुड़ी खास बातें

RELATED TAG: Anantnag Attack, Amarnath Yatra Attack, Amarnath Attack, Salim Sheikh,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो