योगी आदित्यनाथ ने कहा, दिसंबर तक 30 जिलों को खुले में शौच से मुक्त बनाए अधिकारी

By   |  Updated On : March 21, 2017 08:22 AM
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

New Delhi:  

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री का कार्यभार संभालने के बाद अधिकारियों को पहला टास्क दे दिया है। आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के अधिकारियों को दिसंबर तक राज्य के 30 जिलों को खुले में शौच से मुक्त किए जाने का आदेश दिया है।

इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने राज्य के सभी अधिकारियों को स्वच्छता की शपथ दिलाई थी और अब उन्हें 30 दिसंबर तक राज्य के 30 जिलों को खुले में शौच मुक्त किए जाने से मुक्त बनाए जाने का आदेश दिया है।

प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छ भारत अभियान को आगे बढ़ाते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'उत्तर प्रदेश स्वच्छता के मामले में अन्य राज्यों से पीछे है। शहरी औऱ ग्रामीण इलाकों में सफाई कर्मचारी की उपलब्धता के बावजूद इस मामले में उम्मीद के मुताबिक काम नहीं हो पाया है।'

और पढ़ें: यूपी सीएम योगी का दूसरा फरमान: मेरिट के आधार पर मिलेंगी नौकरियां

आदित्यनाथ ने अधिकारियों को दफ्तरों से बाहर निकलकर सरकार की प्रतिबद्धता को पूरा करने का आदेश दिया है।

मुख्यमंत्री का पदभार संभालने के बाद से ही योगी लगातार फैसले ले रहे हैं। इससे पहले उऩ्होंने सभी अधिकारियों औऱ मंत्रियों से 15 दिनों के भीतर संपत्ति की जानकारी देने का आदेश दिया है। वहीं राज्य सरकार की नौकरियों में अधिकारियों को बिना किसी भेदभाव के नियुक्ति किए जाने का आदेश दिया गया है।

और पढ़ें: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ जल्द करेंगे मंत्रालयों का बंटवारा, मोदी-शाह की हरी झंडी का इंतजार

  • HIGHLIGHTS
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री का कार्यभार संभालने के बाद अधिकारियों को पहला टास्क दे दिया है
  • आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के अधिकारियों को दिसंबर तक राज्य के 30 जिलों को खुले में शौच से मुक्त किए जाने का आदेश दिया है
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

अन्य ख़बरे

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो