असम में बाढ़ से 59 लोगों की मौत, 12 लाख से ज्यादा लोग बुरी तरह प्रभावित

By   |  Updated On : July 17, 2017 12:12 AM
असम में बाढ़ से भारी तबाही, 60 लोगों की गई जान

असम में बाढ़ से भारी तबाही, 60 लोगों की गई जान

ख़ास बातें
  •  असम में बाढ़ का कहर, 59 लोगों की मौत
  •  बाढ़ से राज्य में 12 लाख से ज्यादा लोग बुरी तरह प्रभावित

नई दिल्ली:  

असम में बाढ़ से हालात बेहद खराब हैं। 24 जिलों के करीब 12 लाख लोग बाढ़ के प्रकोप से जूझ रहे हैं। राज्य में भयानक बाढ़ की वजह से अबतक 59 लोगों अपनी जान गंवा चुके हैं जबकि 70 से अधिक जानवरों की भी मौत हुई है। असम का चर्चित काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान पूरी तरह डूबा हुआ है।

असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) ने शनिवार को कहा, 'प्रदेश के 24 जिलों के 1,795 गांवों में 11,93,458 लोग बाढ़ की विभीषिका से जूझ रहे हैं।' प्रभावित जिलों में धीमाजी, बिस्वनाथ, लखीमपुर, सोनितपुर, दरांग, नलबारी, बरपेटा, बंगाइगांव, चिरांग, कोकराझार, धुबरी, सोपुथ सालमारा, गोलापारा, मोरीगांव, नागांव, कार्बी आंगलॉन्ग, गोलाघाट, जोरहाट मजुली, शिवसागर, चराईदेव, डिब्रूगढ़, करीमगंज तथा काचर जिला शामिल है।

एएसडीएमए की रिपोर्ट के मुताबिक, 66,516 हेक्टेयर से अधिक कृषि भूमि बाढ़ से प्रभावित हुई है। अधिकारियों के मुताबिक, प्रभावित 25,000 से अधिक लोगों ने विभिन्न जिलों में सरकार द्वारा स्थापित 19 शिविरों में शरण ले रखी है।

ये भी पढ़ें: भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की 'दया याचिका' खारिज, पाक आर्मी चीफ ने शुरू किया 'सबूतों' का आकलन

काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान का 52 फीसदी हिस्सा शनिवार को पानी में डूबा हुआ था। वन विभाग तथा काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान के अधिकारियों ने बाढ़ के कारण उद्यान से बाहर आने वाले जानवरों पर नजर रखने के लिए अतिरिक्त बलों को तैनात किया है।

पार्क के अधिकारियों के मुताबिक, इस साल बाढ़ में 70 से अधिक जानवरों की डूबने से मौत हो चुकी है। राज्य के कई हिस्सों में बाढ़ प्रभावित लोगों ने राहत सामग्री नहीं मिलने की शिकायत की है।

ये भी पढ़ें: अमरनाथ यात्रियों को ले जा रही बस खाई में गिरी, 16 की मौत, 35 श्रद्धालु घायल

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो