NEET 2017: अभिभावकों की दलील पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, कहा- नहीं होगा एग्जाम कैंसल

  |  Updated On : July 15, 2017 02:32 PM
सुप्रीम कोर्ट (फाइल)

सुप्रीम कोर्ट (फाइल)

नई दिल्ली:  

सुप्रीम कोर्ट ने नीट 2017 का एग्जाम रद्द करने की मांग पर साफ इनकार किया है। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में टिप्पणी की है कि अगर ऐसा किया गया तो इससे उन लाखों स्टूटेंड्स का नुकसान होगा जिन्होंने यह परीक्षा पास की है।

जानकारी के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस दीपक मिश्रा की बैंच ने कहा है कि इस साल इस एग्जाम में करीब 11 लाख 35 हजार स्टूडेंट्स ने भाग लिया था।

इन स्टूडेंट्स में से करीब 6 लाख 11 हजार पास हुए हैं। जो स्टूडेंट्स पास हुए हैं उनकी फिलहाल काउंसलिंग चल रही है।

और पढ़ें: CBSE NEET परीक्षा में कोटा मामले की सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

बैंच ने कहा कि इस मामले में रिजल्ट को नहीं रोका जा सकता है। बैंच ने याचिकाकर्ता के वकील की उस दलील पर यह टिप्पणी की है जिसमें उन्होंने आंध्रप्रदेश में पेपर लीक के लिए आवेदकों को सवालों के तीन सेट दिए जाने का तर्क देकर एग्जाम रद्द करने को कहा था।

दलील में अवेदकों के अभिभावकों ने अपील की थी कि ऐसे मामले में नीट 2017 को रद्द कर दिया जाए। हालांकि इस पर सुप्रीम कोर्ट ने साफ कर दिया है कि एग्जाम रद्द नहीं किया जाएगा।

और पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट ने IIT-JEE में काउंसलिंग और एडमिशन पर लगी रोक हटाई

RELATED TAG: Supreme Court, Neet 2017, Results, Exam, Education News,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो