Breaking
  • गुजरात चुनाव: 15 दिन पहले बीजेपी में शामिल हुए पाटिदार नेता निखिल सवानी ने पार्टी छोड़ी
  • 'बाहुबली' प्रभास का जन्मदिन आज, जानें 7 खास बातें -Read More »
  • नरेंद्र पटेल ने लगाया BJP पर आरोप, पार्टी में शामिल होने के लिए दिया 1 करोड़ रुपये का ऑफर -Read More »
  • हरियाणा पुलिस हनीप्रीत को आज पंचकुला कोर्ट में करेगी पेश
  • राहुल गांधी जाएंगे गुजरात, हार्दिक पटेल से मिलने की है संभावना

World Egg Day 2017: प्रोटीन से भरपूर अंडों से जुड़े मिथ को करें दूर

By   |  Updated On : October 13, 2017 05:57 PM
वर्ल्ड एग डे

वर्ल्ड एग डे

नई दिल्ली :  

आज दुनियाभर में वर्ल्ड एग डे मनाया जा रहा है विश्व अंडा दिवस की स्थापना आईइसी विएना 1996 की कांफ्रेंस में हुई थी। हर साल वर्ल्ड एग डे अक्टूबर महीने के दूसरे शुक्रवार को मनाया जाता है। ये दिन अंडे से होने वाले स्वास्थ्य लाभों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए है।

कुछ ही मिनटों में बनने वाले स्वादिष्ट अंडों को आप कई तरीकों से बनाकर खा सकते है। नूट्रिशनिस्ट और हेल्थ एक्सपर्ट का मानना है कि अंडा सेहत के लिए फायदेमंद है।

रिसर्च में ये साबित हुआ कि अंडे सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होते है। रोजाना अंडा खाने का बढ़ते कोलेस्ट्रॉल या दिल संबंधी बीमारी से कोई लेना-देना नहीं है।

अंडा प्रोटीन, सेलेनियम, विटामिन डी, बी 6, बी 12 और मिनरल्स जैसे जिंक, आयरन और कॉपर से भरपूर है। लेकिन इन सब गुणों के होने के बावजूद भी अंडे को लेकर कई मिथ जुड़े हुए है।

मिथ: अंडे को पकाने से प्रोटीन की मात्रा घट जाती है

ये बात सच नहीं है। कई बार बॉडी बिल्डिंग या जिम जाने वाले लोग कच्चे अंडे को दूध में डालकर पीते हैं। लोगों को ऐसा लगता है कि पकाने से अंडे में प्रोटीन कम हो जाता है जबकि अंडे को हमेशा पकाकर ही खाना चाहिए क्योंकि इसमें साल्मोनेला बैक्टीरिया होता है।

मिथ: अंडे धोने से उसमे मौजूद बैक्टीरिया साल्मोनेला खत्म हो जाते है

साल्मोनेला बैक्टीरिया अंडे के अंदर नहीं बल्कि बाहर मौजूद होता है।

मिथ: अंडा खाने से कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ता है

ये सच नहीं और यहां तक कि रिसर्च में भी ये साबित हो चुका है कि अंडे का कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से कोई लेना-देना नहीं है। लेकिन इस बात का ध्यान जरूर रहे कि अंडे की जर्दी दिल के लिए नुकसानदेह हो सकती है। दो अंडे प्रोटीन के बेहतर स्रोत है।

मिथ: रोजाना अंडा खाना सेहत के लिए नुकसानदेह

एक्सपर्ट्स का मानना है कि रोजाना 3-4 अंडे तंदरुस्त लोगों के लिए बिलकुल ठीक है। अगर आप मांसाहारी नहीं है और आप अंडे खाते है तो प्रोटीन के लिए ये सबसे अच्छा स्रोत है। अगर आप मांसाहारी है तो रेड मीट के साथ बहुत सरे अंडे खाना आपको नुकसान पहुंचा सकता है।

मिथ: ब्राउन अंडे में देसी अंडे में ज्यादा पौषक तत्व मौजूद

अंडे कई रंगों में आते है। अंडे के शेल के रंग से उसकी न्यूट्रिशनल वैल्यू पर कोई फर्क नहीं पड़ता है। दोनों ही अंडों में बराबर न्यूट्रिशनल वैल्यू मौजूद होती है।

मिथ: अंडे के बाद तुरंत दूध नहीं पीना चाहिए

आयुर्वेद के अनुसार अंडे के साथ दूध पीने से अपच, ब्लोटिंग और गैस बनने जैसी शिकायतें हो सकती है लेकिन एक्सपर्ट्स की राय अलग है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि अंडों में भरपूर मात्रा में प्रोटीन मौजूद होता है। प्रोटीन की आहार के लिए अगर एक ग्लास दूध और साथ में अंडे खाये जाये तो फायदेमंद होगा। कच्चे अंडे या ठीक से पके हुए अंडे खाने से बैक्टीरियल इन्फेक्शन, फूड पोइज़निंग आदि होने का खतरा रहता है।

मिथ: अंडा खाना मतलब मुर्गी के बच्चे को भी खाना

ये बिलकुल सच नहीं है क्योंकि अंडा मुर्गी की डेली साइकिल का हिस्सा होता है। यह अंडे मुर्गे से फर्टिलाइज्ड नहीं होते हैं।

RELATED TAG: World Egg Day 2017, Egg Myths,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो