Breaking
  • मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ED ने लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती के फार्महाऊस को जब्त किया
  • निदाहास ट्रॉफी के लिए बीसीसीआई ने की टीम की घोषणा, कोहली और धोनी को आराम
  • श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को आज शाम चार्टेट फ्लाइट से मुंबई लाया जाएगा
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 'मन की बात' कार्यक्रम से करेंगे देश को संबोधित
  • दिग्गज बॉलीवुड एक्ट्रेस श्रीदेवी का दिल का दौरा पड़ने से निधन, पढ़ें पूरी खबर -Read More »

AIDS DAY: करीब 50 करोड़ साल पुराना है एड्स वायरस

  |  Updated On : December 01, 2017 08:23 PM

लंदन:  

रिट्रोवायरस (एचआईवी) करीब 50 करोड़ साल पुराने हैं। यह पहले की अवधारणा से लाखों साल पुराने हैं। ऐसा ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों का मानना है। रिट्रोवायरस विषाणुओं का एक प्रकार है, इसमें एचआईवी विषाणु भी शामिल है। एचआईवी विषाणु एड्स की महामारी के लिए जिम्मेदार है।

नए शोध में पता चला है कि रिट्रोवायरस की उत्पत्ति समुद्री मूल से है। यह अपने जंतु पोषक के जरिए विकासपरक संक्रमण के लिए समुद्र से जमीन पर आए।

अब तक यह माना जाता था कि रिट्रोवायरस नए हैं और इन्हें 10 करोड़ साल पुराना माना जाता था।

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के जंतु विज्ञान विभाग के डॉ. अरिस काटजोउराकिस ने कहा, 'हमारा शोध बताता है कि रिट्रोवायरस कम से कम 45 करोड़ साल से ज्यादा पुराने है, यदि इतने पुराने नहीं तो पैलियोजोइक युग के शुरुआत में अपने कशेरुकी पोषकों के साथ उत्पन्न हुए होंगे।'

यह जानवरों में कैंसर और प्रतिरोध संबंधी बीमारियां भी पैदा करता है।

विषाणु के रिट्रो भाग का नाम आरएनएस से बने होने से नाते लिया जाता है। यह पोषक जीनोम में प्रवेश करने के लिए डीएनए में परिवर्तित हो जाता है।

इसे भी पढ़ें: सर्दियों में फट रही है एड़ी? ये TIPS खत्म करेंगी आपकी परेशानी

RELATED TAG: Hiv Virus,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो