BREAKING NEWS
  • Holi 2019: होली पर बनाएं ये नारियल से बनी टेस्टी गुजिया, जानें रेसिपी- Read More »
  • बीसीसीआई 6 महीने तक नाडा के साथ काम करने पर राजी, ये होंगी शर्तें- Read More »
  • Tokyo Olympic 2020: भारत के लिए गोल्ड मेडल जीतना मैरी कॉम का लक्ष्य, इंटरव्यू में कही ये बातें- Read More »

घर की रसोई में मिल जाएगा डेंगू और मलेरिया का इलाज, ये है उपाय

News State Bureau   |   Updated On : July 26, 2018 02:26 PM
प्रतीकात्मक फोटो (साभार गूगल)

प्रतीकात्मक फोटो (साभार गूगल)

नई दिल्ली:  

वैश्विक स्तर पर सभी संक्रामक बीमारियों में मच्छर जनित बीमारियों का बोझ 17 फीसदी है। डेंगू अब दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती मच्छर जनित बीमारी है, जिसमें पिछले 50 वर्षों में 30 गुना वृद्धि हुई है।

डब्ल्यूएचओ के दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र के सभी देशों से अब डेंगू बुखार की सूचना मिली है।

मॉनसून के शुरू होते ही दिल्ली में मलेरिया के 75 और डेंगू के 43 मामले सामने आ चुके है। मच्छर इन बीमारियों का स्रोत है। इसलिए मलेरिया और डेंगू से बचने के लिए सबसे बुनियादी रोकथाम मच्छरों से दूर रहना है। मच्छरों से दूर रहने के लिए ज़रूरी है कि अपने आसपास पानी जमा न होने दिया जाए और पर्यावरण को साफ़ रखा जाए।

इन सभी मच्छर जनित बीमारियों में अगर सही समय पर इलाज नहीं कराा गया तो जान जाने का खतरा बना रहता है। हालांकि कुछ घरेलु नुस्खों को आजमाकर आप डेंगू और मलेरिया जैसी गंभीर बीमारी से निजात पा सकते हैं।

पपीते के पत्ते का रस: डेंगू होने की स्थिति में सबसे अच्छे घरेलू उपचारों में से एक है पपीते के पत्ते का सेवन करना। इससे प्लेटलेट्स की गिनती बढ़ाने में मदद मिलती है। 

अदरक: जिंजरोल से भरपूर, अदरक प्रतिरक्षा में सुधार करने में मदद कर सकता है और यह आपके शरीर को जल्द से जल्द संक्रमण से ठीक होने में मदद करने के लिए भी जाना जाता है। अदरक में सक्रिय घटक, जिंजरोल एंटी फ्लेमेटरी और जीवाणुरोधी गुणों में अत्यधिक समृद्ध है और आपके शरीर को विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं के खिलाफ लड़ने में मदद करता है।

मोसंबी: मोसंबी और अन्य खट्टे फल विटामिन और खनिजों में समृद्ध हैं जो आपके शरीर को जल्द से जल्द ठीक करने में मदद करते हैं। विटामिन सी से भरपूर मौसंबी पचाने में आसान होता है और मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियों के खिलाफ प्रतिरक्षा बनाने में मदद करता है। 

इसे भी पढ़ें: महिलाओं में गर्भधारण को प्रभावित करता है अधिक या कम वजन

दालचीनी: स्वस्थ पोषक तत्वों से भरी दालचीनी सबसे शक्तिशाली मसालों में से एक है जो वजन कम करने में आपकी मदद कर सकती है, दालचीनी procyanidins, सिनामाल्डेहाइड और कैचिन में भी समृद्ध है जो प्रतिरक्षा बनाने में मदद करता है। दालचीनी भी एंटी फ्लेमेटरी और एंटी माइक्रोबल है। जो मलेरिया के खिलाफ शरीर से लड़ने में मदद करता है।

मेथी के बीज: मेथी में अद्भुत औषधीय गुण होते हैं जो आपकी प्रतिरक्षा के साथ-साथ विभिन्न रोगों से लड़ने में मददगार होती है।

हालांकि ये प्राकृतिक घरेलू उपचार बीमारी के दौरान भले ही रोग से लड़ने में आपकी मदद करे लेकिन इन बीमारियों से तुरंत छुटकारा पाने के लिए डॉक्टरी सलाह लेना अत्यंत आवश्यक है।

इसे भी पढ़ें: महिलाओं में किडनी की समस्या मौत का आठवां सबसे प्रमुख कारण

First Published: Thursday, July 26, 2018 01:34 PM

RELATED TAG: Dengue, Home Remedies, Malaria, Natural Remedies,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

News State ODI Contest
Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो