Breaking
  • गुजरात चुनाव: कांग्रेस ने दूसरी सूची जारी की, 13 उम्मीदवारों के नाम शामिल

प्रद्युम्न हत्याकांड: आरोपी छात्र के पिता का दावा- बेटा बेगुनाह है, CBI ने यातनाएं दी

  |  Updated On : November 11, 2017 06:10 PM
प्रद्युम्न हत्याकांड में गिरफ्तार आरोपी (फाइल फोटो-PTI)

प्रद्युम्न हत्याकांड में गिरफ्तार आरोपी (फाइल फोटो-PTI)

नई दिल्ली:  

गुरुग्राम के चर्चित प्रद्युम्न हत्या मामले में गिरफ्तार नाबालिग आरोपी को रविवार को सीबीआई ने जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड (जेजेबी) के सामने पेश किया। 

जहां बोर्ड ने आरोपी को 22 नवंबर तक फरीदाबाद के बाल सुधार गृह में भेज दिया। सीबीआई ने जांच पूरी होने की दलील देते हुए आरोपी की रिमांड की मांग नहीं की।

इस बीच नाबालिग आरोपी के पिता ने दावा किया है कि मेरे बेटे को गंभीर यातनाएं दी गई। वह बेगुनाह है।

सीबीआई से मांगी सफाई

जेजेबी ने सीबीआई को जवाब तलब किया है, क्योंकि नियम के मुताबिक नाबालिग से शाम 6 बजे तक ही पूछताछ कर सकते हैं। लेकिन CBI ने कथित तौर पर इसे फॉलो नहीं किया और हर दिन 10 बजे तक पूछताछ किया।

और पढ़ें: प्रद्युम्न मामले में सीबीआई की एक और छात्र पर नज़र- सूत्र

JJB में पेशी से पहले सीबीआई ने आरोपी छात्र को रेयान इंटरनेशनल स्कूल ले गयी थी। जहां पूरे क्राइम सीन को रिक्रिएट किया गया। इस दौरान सीबीआई टीम ने टेड्डी का इस्तेमाल किया। सीबीआई ने सारे टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ से दोबारा पूछताछ की।

'बेटा बेगुनाह है'

गिरफ्तार नाबालिग आरोपी के पिता ने दावा किया कि मेरे बेटे को गंभीर यातनाएं दी गई। वहीं जांच एजेंसी सीबीआई ने आरोपों को खारिज किया है।

नाबालिग के पिता ने कहा, 'उसे उल्टा लटकाया गया और बुरी तरह पीटा गया। वह पूरी तरह निर्दोष है।'

उन्होंने कहा, 'अभी तक मात्र एक अभिभावक-अध्यापक बैठक (पीटीएम) हुई और सभी शिक्षकों ने मेरे बेटे के प्रदर्शन और व्यवहार की तारीफ की। मेरे पास मार्कशीट है।'

उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि क्या आपको लगता है कि कोई लड़का इतना गंभीर अपराध करने के बाद भी सामान्य ढंग से रहेगा। सीबीआई ने आरोपों पर सफाई देते हुए कहा कि गिरफ्तार नाबालिग से कस्टडी में मारपीट नहीं की गई।

आपको बता दें कि सीबीआई ने क्लास 11वीं के छात्र को प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या के मामले में मुख्य आरोपी के रूप में 7 नवंबर को गिरफ्तार किया था। इससे पहले एक स्कूल बस कंडक्टर को इस मामले में गिरफ्तार किया गया था, जिसपर हरियाणा पुलिस ने हत्या करने का दावा किया था।

और पढ़ें: प्रद्युम्न मामले में आरोपी अशोक को सीबीआई ने दी क्लीन चिट

सीबीआई ने दावा किया था कि गिरफ्तार छात्र पढ़ाई में कमजोर था और परीक्षाओं और पेरेंस्ट्स-टीचर्स मीटिंग को स्थगित करना चाहता था और इस सबसे बचने के लिए उसने बगैर सोचे-समझे प्रद्युम्न (सात) की हत्या कर दी।

सीबीआई ने हरियाणा पुलिस से 22 सितंबर को रेयान इंटरनेशनल स्कूल (गुरुग्राम) के बाथरूम में प्रद्युम्न की गला रेतकर हुई हत्या के करीब दो सप्ताह बाद यह मामला अपने हाथ में ले लिया था।

RELATED TAG: Pradyuman Murder Case, Juvenile Justice Board, Father, Tortured,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो