कांग्रेस को मिल सकता है हार्दिक पटेल का साथ, कहा- बीजेपी मात्र 80 सीट जीतेगी

By   |  Updated On : May 18, 2017 08:04 AM
पाटीदार नेता हार्दिक पटेल (फाइल फोटो)

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  हार्दिक पटेल ने गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी से की मुलाकात
  •  हार्दिक पटेल ने कहा, बीजेपी को चुनाव में नहीं मिलेगा बहुमत
  •  पाटीदार आंदोलन के नेता पटेल ने कहा,  कांग्रेस को एकजुट होकर काम करना होगा 

नई दिल्ली:  

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने बुधवार को कहा कि सत्ताधारी बीजेपी आगामी गुजरात विधानसभा चुनाव में मात्र 80 सीटें ही जीत पाएगी। 

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) 182 सददस्यीय विधानसभा में 150 सीटों का अपना लक्ष्य हासिल नहीं कर पाएगी।

हार्दिक (23) ने हालांकि यह भी कहा कि इसका अर्थ यह नहीं कि कांग्रेस सिर्फ इसलिए जीत जाएगी, क्योंकि राज्य में सिर्फ दो प्रमुख पार्टियां हैं।

पटेल ने कहा, 'वे यह न समझे कि पटेल आंदोलन के कारण उनके मुंह में लड्डू आ गिरेगा।' उन्होंने कहा, 'यदि उन्होंने भी अपना रुख साफ नहीं किया और एकजुट होकर कर काम नहीं किया, तो जनता मजबूरन किसी नए विकल्प की तरफ देख सकती है।'

हार्दिक ने मीडिया से कहा, 'युवा, महिलाएं, दलित, जनजाति, पटेल और किसान इस बार बीजेपी के खिलाफ हैं।'

विधानसभा चुनाव इस वर्ष के अंत में होना है। विधानसभा में इस समय बीजेपी की 123 सीटें हैं, जबकि कांग्रेस के पास 57 सीटें हैं।

और पढ़ें: गुजरात कांग्रेस में बगावत, शंकर सिंह बाघेला ने राहुल गांधी को किया अनफॉलो!

हार्दिक पटेल का बयान पीएएएस के एक प्रतिनिधिमंडल और गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी के बीच एक बैठक के तत्काल बाद आया है।

उन्होंने अपनी मांग दोहराई, जिसमें उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में पटेलों की आरक्षण की मांग पर विचार करने के लिए एक पाटीदार आयोग का गठन करना चाहिए।

हार्दिक ने कहा, 'यदि वे गंभीर हैं, तो इसमें विलंब क्यों? वे पटेलों को कुछ नहीं देना चाहते, बल्कि समुदाय को भ्रमित कर रहे हैं।'

हार्दिक पटेल उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल के उस बयान का जवाब दे रहे थे, जिसतें उन्होंने कहा था कि सरकार पाटीदारों के साथ बातचीत के लिए तैयार है।

और पढ़ें: पवार ने सोनिया के राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी का प्रस्ताव ठुकराया

उन्होंने कहा, 'हम आप से क्यों मिले? क्या आपकी चाय पीने के लिए? हम तबतक आप से नहीं मिलेंगे, तबतक कि आप हमारी विभिन्न मांगों पर अपना रुख स्पष्ट नहीं कर देते, जिसमें पाटीदार समुदाय के लिए आरक्षण भी शामिल है।'

हार्दिक ने कहा कि सरकार का बयान प्रमुख रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राज्य के दो दिवसीय दौरे के दौरान किसी विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए है, जो 22 मई से शुरू हो रहा है।

उनके संगठन पार्टीदार अनामत आंदोलन समिति (पीएएएस) ने बोटात और भावनगर में दो बड़े कार्यक्रम आयोजित करने की योजना बनाई है।

आईपीएल 10 की खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

एंटरटेनमेंट की बड़ी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे