Breaking
  • पी वी सिंधु दुबई वर्ल्ड सुपर सीरीज के फाइनल में पहुंची
  • H-1B वीजा में मिली छूट को ख़त्म करेगा ट्रंप प्रशासन (पढ़ें खबर) -Read More »
  • अगड़ी जाति के गरीबों को भी आरक्षण देने पर करें विचार: HC (पढ़ें खबर) -Read More »
  • यौन अपराध रोकने के लिए महिलाओं को गैजेट्स दिलाए सरकार: मद्रास HC (पढ़ें खबर) -Read More »
  • लश्कर प्रमुख हाफिज सईद ने फिर उगली आग, बोला- भारत से लेंगे पूर्वी पाकिस्तान का बदला
  • गुजरात चुनाव से पहले डरे हार्दिक, बोले- EVM पर सौ फीसदी है शक (पढ़ें खबर) -Read More »
  • जीएसटी परिषद ने ई-वे बिल को लागू करने की दी मंजूरी

गुजरात चुनाव: BJP ने जारी किया संकल्प पत्र, जेटली बोले- कांग्रेस का वादा संवैधानिक रूप से असंभव

  |  Updated On : December 08, 2017 08:24 PM
ख़ास बातें
  •  गुजरात चुनाव के लिए बीजेपी ने शुक्रवार को 'संकल्प पत्र' (घोषणापत्र) जारी किया
  •  जेटली ने कहा, गुजरात को एक रखना और हर वर्ग की चिंता करना ही हमारा प्रयास है
  •  जेटली ने कहा, गुजरात में सामाजिक ध्रुवीकरण से कांग्रेस का ही नुकसान होगा

नई दिल्ली:  

गुजरात चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने शुक्रवार को 'संकल्प पत्र' (घोषणापत्र) जारी किया। इस मौके पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि गुजरात को एक रखना और हर वर्ग की चिंता करना ही हमारा प्रयास है।

जेटली ने कहा कि गुजरात में पाटीदारों को आरक्षण देने व किसानों की कर्ज माफी का कांग्रेस का चुनावी घोषणा पत्र 'संवैधानिक रूप और वित्तीय रूप से असंभव' है।

साथ ही उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि गुजरात में सामाजिक ध्रुवीकरण से कांग्रेस का ही नुकसान होगा।

जेटली ने कहा, 'कांग्रेस का एक चुनावी वादा संवैधानिक रूप से असंभव है, जो कि आरक्षण है। यह 50 प्रतिशत से ज्यादा नहीं हो सकता। कांग्रेस की सोच संवैधानकि रूप से असंभावना पर आधारित है।'

कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में वादा किया है कि अगर वह राज्य में सत्ता में आएगी तो जिनलोगों को किसी भी प्रकार का आरक्षण नहीं मिलता है, उनके लिए विशेष विधेयक लाया जाएगा और पाटीदारों को विशेष श्रेणी के अंतर्गत आरक्षण दिया जाएगा।

कांग्रेस ने पेट्रोल और डीजल के मूल्य प्रति लीटर 10 रुपये तक घटाने और किसानों के कर्ज माफ करने का वादा किया है। पार्टी ने सभी बेरोजगार युवकों को नौकरी पाने तक 4,000 रुपये बेरोजगारी भत्ता देने का भी वादा किया है।

जेटली ने कहा, 'कांग्रेस का वादा सच्चाई से कोसों दूर है। ये ऐसे वादे हैं, जो पूरे नहीं किए जा सकते। वास्तव में इस तरह के वादे वित्तीय रूप से असंभव हैं।'

वित्तमंत्री ने कहा कि गुजरात बड़े राज्यों में एक मात्र ऐसा राज्य है, जिसने कुछ वर्षो में 10 प्रतिशत की वृद्धि दर हासिल की है और यह ऐसे अंतिम पांच वर्षो के दौरान हुआ, जब विश्व और देश की अर्थव्यवस्था की स्थिति अच्छी नहीं थी। 

उन्होंने कहा कि गुजरात मॉडल के आलोचकों को गुजरात की जीडीपी वृद्धि दर को गंभीरता से समझना चाहिए और बीजेपी के शासन के अधीन सभी राज्य सभी सामाजिक व वित्तीय क्षेत्र में विकास के गवाह हैं।

आपको बता दें कि गुजरात चुनाव के लिए घोषणापत्र देर से जारी किये जाने को लेकर कांग्रेस ने निशाना साधा था। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को कहा कि चुनाव से पहले घोषणापत्र जारी नहीं कर बीजेपी ने राज्य की जनता का अविश्वनीय तरीके से अपमान किया है।

और पढ़ें: पीएम मोदी का अय्यर पर आरोप, कहा- पाकिस्तान जाकर मेरी सुपारी दी

गांधी ने ट्वीटर पर कहा, 'बीजेपी ने गुजरात की जनता का घोर अपमान किया है। चुनाव प्रचार खत्म हो चुका है और अभी तक लोगों के लिए घोषणापत्र को जारी नहीं किया गया है। गुजरात के भविष्य के लिए कोई विजन और कोई विचार नहीं।'

कांग्रेस ने 11 दिसंबर को गुजरात के लिए घोषणापत्र जारी किया था। पार्टी ने अपने घोषणापत्र में राज्य में अल्पसंख्यक आयोग बनाने का वादा किया गया है।

गुजरात में पहले चरण के तहत 9 दिसंबर को 89 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव होना है। दूसरे चरण के लिए 14 दिसंबर को मतदान होना है।

और पढ़ें: IRCTC मामले में ईडी ने लालू की 45 करोड़ की संपत्ति की जब्त

RELATED TAG: Gujarat Election 2017, Arun Jaitley, Bjp, Manifesto, Congress,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो