Breaking
  • दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नीदरलैंड के पीएम मार्क रूट से की मुलाकात
  • सीरिया में मिलिट्री पॉजिशन पर अमेरिका ने किया हमला, 12 लोगों की मौत: AFP
  • व्यास नदी प्रदूषण: NGT ने सेंट्रल, पंजाब और राजस्थान पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड को भेजा नोटिस
  • तमिलनाडु हिंसा के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे DMK के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन पुलिस हिरासत में
  • केरल: कोझिकोड में निपाह वायरस से एक और मौत, मरने वालों की संख्या बढ़कर 11 हुई
  • कर्नाटक: बीजेपी विधायक सुरेश कुमार ने विधान सभा के स्पीकर के लिए नॉमिनेशन भरा
  • द्विपक्षीय महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव नतीजे: बीजेपी ने 2 और एनसीपी ने एक सीट जीती
  • छत्तीसगढ़: पुसवाड़ा में IED ब्लास्ट, एक CRPF जवान शहीद, 206 CoBRA बटालियन का जवान घायल
  • इटली में ट्रेन हुई डीरेल, 2 लोगों की मौत, 1 घायल: AFP के हवाले से
  • उत्तरी बगदाद पार्क में आत्मघाती हमला, 7 लोगों की मौत: AP की रिपोर्ट
  • तमिलनाडु हिंसा: हिंसक प्रदर्शन में मरने वालों की संख्या बढ़कर 13 हुई, 70 घायल
  • तमिलनाडु: तूतीकोरिन में प्रशासन के अगले आदेश तक इंटरनेट सेवा सस्पेंड

इंदिरा बहन जब मोरबी आई थीं तो बदबू की वजह से नाक पर रूमाल रखा था: पीएम मोदी

  |   Updated On : November 29, 2017 09:57 PM
पीएम मोदी (एएनआई)

पीएम मोदी (एएनआई)

नई दिल्ली:  

गुजरात के मोरबी में चुनाव रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कांग्रेस पार्टी पर एक बार फिर से हमला किया है।

पीएम मोदी ने कहा कि मुझे याद है कि इंदिरा बहन जब मोरबी आई थीं तो बदबू की वजह से उन्होंने अपनी नाक पर रूमाल रखा हुआ था। उनकी ये फोटो मैगजीन में छपी थी।

उन्‍होंने कहा कि जनसंघ और आरएसएस को मोरबी की गलियों से खुशबू आती है और वह खूशबू मानवता की होती है।

पीएम ने कहा, 'मेरा मोरबी से कुछ ऐसा नाता है कि जब भी सुख-दुख का वक्त आता है तो मैं यहां आता हूं। हमारे लिए लोगों का सुख मायने रखता है। जब हम सत्ता में नहीं भी होते हैं, तब भी मोरबी के लोगों के साथ खड़े रहते हैं और समाज की सेवा करते हैं। अच्छे या फिर बुरे समय में जनसंघ, आरएसएस और बीजेपी के लोग हमेशा मोरबी के लोगों के साथ खड़े रहे हैं।'

पीएम मोदी ने कहा कि मोरबी से उनका और उनकी पार्टी का सुख-दुख का नाता है।

केरल धर्म परिवर्तन केस: हदिया बोली मैं अभी भी आजाद नहीं, मुझे बस मेरे मौलिक अधिकार चाहिए

पीएम ने कहा, 'सत्ता में आने पर हमने देखा कि सौराष्ट्र और कच्छ के लोगों की मुख्य समस्या पानी की कमी है। पर्याप्त जल की कमी होने से समाज पर बुरा असर पड़ रहा है। बीजेपी ने इसको बदला और नर्मदा के पानी को इस क्षेत्र तक पहुंचाया। आपदा को अवसर में बदलकर हम विकास करते हैं। कांग्रेस के लिए विकास का मतलब हैंडपंप है, तो बीजेपी का विकास यहां तक पाइपलाइन लाना है। पाइपलाइनों के जरिए ही हम नर्मदा का पानी यहां तक लाने में कामयाब हुए।'

उन्होंने कहा, 'सौराष्ट्र नर्मदा अवतरण सिंचाई योजना (SAUNI) के जरिए हमने बड़ी पाइपलाइनें बनाईं। सौराष्ट्र क्षेत्र के बांधों को SAUNI योजना के जरिए ही भरा जा सका है। लेकिन मुझे ऐसा लगता नहीं है कि कांग्रेस को यह सब दिखेगा। हम पानी की कमी के विपरीत प्रभावों को समझते हैं, इसलिए गुजरात में हमने पानी की एक-एक बूंद को बचाने के लिए जनांदोलन की शुरुआत की। विकास का अर्थ हमारे लिए केवल चुनाव जीतना भर ही नहीं है, बल्कि हर एक नागरिक की सेवा करना भी है।'

मोदी ने कहा, 'हमने पानी की स्थिति को सुधारने के लिए काम किया, लेकिन इसके बाद हम रुक नहीं गए। बीजेपी सरकार ने सॉइल हेल्थ कार्ड लेकर आई, जिससे किसानों को बहुत लाभ हुआ।'

गुजरात चुनाव: राहुल गांधी ने पीएम मोदी के वादों की पड़ताल के लिए ट्विटर पर शुरू किया कैंपेन

RELATED TAG: Narendra Modi, Gujarat Poll, Indira Gandhi, Morbi, Congress,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो