Breaking
  • चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धोनी ने जीता टॉस, पहले फील्डिंग का फैसला किया
  • मुंबई: गोरेगांव (पश्चिम) एसवी रोड पर टेक्निक प्लस वन की बिल्डिंग में आग लगी
  • केरल: निपाह वायरस के कारण एक अन्य की मौत, मरने वालों की संख्या 14 हुई
  • ओमान चांडी को आंध्र प्रदेश का कांग्रेस प्रभारी नियुक्त किया गया, दिग्विजय सिंह की जगह लेंगे
  • पीएम मोदी 44वीं बार करेंगे मन की बात, छात्रों को दिखाएंगे रास्ता पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • पीएम मोदी दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर करेंगे रोड शो, सोलर पावर से लैस हाईवे का करेंगे उद्घाटन -Read More »

बालों को हटाने के लिए वैक्सिंग से बेहतर शेविंग : सर्वेक्षण

  |   Updated On : December 02, 2017 11:41 PM

नई दिल्ली:  

शेविंग बाल हटाने के तरीकों में सबसे सुरक्षित, सुविधाजनक और स्वच्छ तरीका है। त्वचा विशेषज्ञों ने एक सर्वेक्षण में यह बात कही है। महिला रेजर ब्रांड 'जिलेट वीनस' द्वारा कराए गए अध्ययन में अगस्त 2016 में पूरे देश के 300 त्वचा विशेषज्ञों की राय ली गई थी।

उनसे मौजूदा समय में महिलाओं के लिए बाल हटाने की सबसे अच्छी विधि बताने को कहा गया था।

सर्वेक्षण में खुलासा किया गया कि 70 फीसदी त्वचा विशेषज्ञ शेविंग को बाल हटाने का सबसे अच्छा तरीका मानते हैं। 

एक बयान के मुताबिक, त्वचा विशेषज्ञों ने यह भी कहा कि बाल हटाने की विधियां चुनते समय त्वचा विशेषज्ञ और महिलाएं सुरक्षा, सुविधा और स्वच्छता के पहलू पर सबसे ज्यादा ध्यान देती हैं।

इसमें शेविंग और वैक्स व क्रीम का तुलनात्मक विश्लेषण भी किया गया। इसमें यह सामने आया कि शेविंग को इसमें सबसे ज्यादा बेहतर माना जाता है। करीब 62 फीसदी त्वचा विशेषज्ञों ने सुरक्षा के मामले में शेविंग की विधि को सबसे बेहतर बताया।

इसमें एक अन्य आम धारणा यानी त्वचा के कालेपन की भी बात की गई। सर्वे में शामिल करीब 60 फीसदी से ज्यादा त्वचा विशेषज्ञों ने कहा कि शेविंग से त्वचा काली नहीं होती।

सौंदर्य चिकित्सक और प्रसिद्ध त्वचा विशेषज्ञ रश्मि शेट्टी ने कहा, 'आज के दौर में बालों को हटाने के तरीकों में वृद्धि के साथ, भारतीय महिलाएं इसके लिए सबसे बेहतर विकल्प चुनने के मामले में ज्यादा सतर्क हो गई हैं। भारतीय महिलाएं खास तौर से त्वचा की देखभाल के मामले में ज्यादा सतर्क रहती हैं।'

उन्होंने कहा, 'वे अब किसी उत्पाद को खरीदने से पहले उसके पीछे छिपे विज्ञान को समझने में दिलचस्पी लेती हैं। इसलिए उचित यही है कि उन्हें सही जानकारी दी जाए। इस तरह वे एक सही फैसला लेकर अपनी जरूरत के अनुसार बाल हटाने के सबसे बेहतर तरीके का चुनाव कर सकती हैं।'

सर्वेक्षण में आगे मिथकों और भ्रांतियों पर भी स्पष्टीकरण दिया गया है। सर्वे में शामिल 225 त्वचा विशेषज्ञों में से 90 फीसदी दिल्ली से, 70 फीसदी बेंगलुरू से और 60 फीसदी से ज्यादा मुंबई से थीं। उन्होंने कहा कि आम भ्रांति के विपरीत शेविंग से बालों की मोटाई नहीं बढ़ती।

इसे भी पढ़ें: सर्दियों में धूप में जरूर बैठे, नहीं तो हो सकती है ये बीमारी

 

RELATED TAG: Hair Removal,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो