Breaking
  • आरजेडी कार्यकर्ताओं के हंगामे के बाद सीएम नीतीश के आवास पर बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था
  • NDA में शामिल हुई जेडी-यू, 'बागी' शरद यादव के खिलाफ नहीं हुई कार्रवाई -Read More »
  • शुक्रवार की क्लोजिंग के मुकाबले 25 फीसदी प्रीमियम पर बायबैक करेगी इंफोसिस
  • यूपी में ख़राब कानून व्यवस्था को लेकर समाजवादी पार्टी के नेताओं ने राज्यपाल से की मुलाक़ात
  • इंफोसिस के बोर्ड ने 13,000 करोड़ रुपये के बायबैक को दी मंजूरी -Read More »
  • उत्तर प्रदेश के गोरखपुर पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी
  • जम्मू-कश्मीर: शोपियां ज़िले के 9 गांवो में सुरक्षाकर्मियों ने शुरु किया सर्च ऑपरेशन

छत्तीसगढ़ में 100 रूपए किलो हुआ टमाटर, बाकि सब्जियों के भी दाम बढ़े

By   |  Updated On : July 13, 2017 07:28 PM
छत्तीसगढ़ में 100 रूपए किलो हुआ टमाटर

छत्तीसगढ़ में 100 रूपए किलो हुआ टमाटर

नई दिल्ली :  

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में टमाटर की कीमतें बुधवार और गुरुवार को 90 और 100 रुपये किलो तक पहुंच गईं। रायपुर के पुरानी बस्ती बाजार पहुंचे 42 वर्षीय ललित ने कहा, 'पिछले कई सालों में टमाटर की कीमतों में इतना इजाफा कभी नहीं हुआ। पहली बार टमाटर की कीमत 100 रुपये तक पहुंची है। लेकिन, सब्जियों का जायका तो बिना टमाटर आता ही नहीं, इसलिए मजबूरी कहें या जरूरत, खरीदना तो पड़ेगा ही।'

गुरुवार को चिल्हर में टमाटर 90 से 100 रुपये प्रति किलो बिका। स्थानीय व्यापारियों का कहना है कि अगर मौजूदा हालत सामान्य नहीं हुए तो इसकी कीमत सौ के भी पार चली जाएगी। व्यापारी इसके पीछे टमाटर की धीमी आवक को प्रमुख कारण बता रहे हैं। बिल्कुल उपलब्धि नहीं होने से टमाटर की कीमत आसमान छू रही है।

'छत्तीसगढ़िया सबले बढ़िया' कहा जाता है और छत्तीसगढ़ में पताल की चटनी मशहूर है। लेकिन, टमाटर के लगातार बढ़ते भाव ने इस पर संकट ला दिया है।

और पढ़े: दिल्ली: टमाटर की कीमत आसमान पर, 70-80 रुपये प्रति किलो है भाव

ऐसा नहीं है कि सिर्फ टमाटर की कीमतें बढ़ी हैं, अन्य सब्जियों के दाम भी आसमान छू रहीं हैं।

छत्तीसगढ़ सब्जी विक्रेता संघ के अध्यक्ष श्रीनिवास रेड्डी का कहना है, 'टमाटर की कीमतों में वृद्धि के पीछे मुख्य वजह मांग ज्यादा और आपूर्ति कम होना है। बाजार में टमाटर न के बराबर है। कुछ सब्जियों जैसे बरबट्टी, लौकी की आवक जरूर है, पर जितनी होनी चाहिए, उतनी नहीं है।"

उन्होंने कहा, 'टमाटर की बात करें तो यह अभी बेंगलुरु से आ रहा है, लेकिन बारिश के चलते वहां भी दिक्कत हो रही है। इसलिए लगातार कीमतों में इजाफा हो रहा है। ऐसी स्थिति आने वाले एक-दो महीनों तक की कमी रह सकती है। दीवाली के बाद ही स्थिति सामान्य होगी।'

ये भी जानें: टमाटर बचाएगा पेट के कैंसर से, एक रिपोर्ट का दावा

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो