Breaking
  • पी वी सिंधु दुबई वर्ल्ड सुपर सीरीज के फाइनल में पहुंची
  • H-1B वीजा में मिली छूट को ख़त्म करेगा ट्रंप प्रशासन (पढ़ें खबर) -Read More »
  • अगड़ी जाति के गरीबों को भी आरक्षण देने पर करें विचार: HC (पढ़ें खबर) -Read More »
  • यौन अपराध रोकने के लिए महिलाओं को गैजेट्स दिलाए सरकार: मद्रास HC (पढ़ें खबर) -Read More »
  • लश्कर प्रमुख हाफिज सईद ने फिर उगली आग, बोला- भारत से लेंगे पूर्वी पाकिस्तान का बदला
  • गुजरात चुनाव से पहले डरे हार्दिक, बोले- EVM पर सौ फीसदी है शक (पढ़ें खबर) -Read More »
  • जीएसटी परिषद ने ई-वे बिल को लागू करने की दी मंजूरी

सुप्रीम कोर्ट ने विजय माल्या के खिलाफ अवमानना की कार्रवाई पर लगाई रोक, कहा-जब पेश होंगे तब होगी सुनवाई

  |  Updated On : July 15, 2017 06:59 AM
विजय माल्या के खिलाफ अवमानना मामले में सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक (फाइल फोटो)

विजय माल्या के खिलाफ अवमानना मामले में सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  सुप्रीम कोर्ट ने शराब कारोबारी विजय माल्या के खिलाफ अवमानना की कार्रवाई पर रोक लगा दी है
  •   कोर्ट ने कहा कि जब विजय माल्या सुनवाई के लिए अदालत में मौजूद होंगे, तभी उनके खिलाफ सुनवाई होगी

नई दिल्ली :  

सुप्रीम कोर्ट ने शराब कारोबारी विजय माल्या के खिलाफ अवमानना की कार्रवाई पर रोक लगा दी है। कोर्ट ने कहा कि जब विजय माल्या सुनवाई के लिए अदालत में मौजूद होंगे, तभी उनके खिलाफ सुनवाई होगी।

सुप्रीम कोर्ट ने इंगलैंड से विजय माल्या को वापस लाने की सरकार की कोशिश को स्वीकार किया। देश के कई बैंकों का करीब 9,000 करोड़ रुपये लेकर विजय माल्या पिछले साल फरार होकर इंगलैंड चले गए थे।

सुप्रीम कोर्ट ने 9 मई की सुनवाई में माल्या को अवमानना के मामले में दोषी करार दिया था। इसके साथ ही कोर्ट ने उन्हें निजी तौर पर अदालत में पेश होने का आदेश दिया था।
कानून के मुताबिक अवमानना के मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद माल्या को छह महीने की सजा और 20,000 रुपये तक का जुर्माना हो सकता है। हाल ही में भारत ने ब्रिटेन से माल्या को जल्द भारत प्रत्यर्पित किए जाने की अपील की है।

विजय माल्या-ललित मोदी पर कसेगा शिकंजा, ब्रिटिश पीएम थेरेसा से पीएम मोदी ने किया मदद का आग्रह

सुप्रीम कोर्ट भारतीय स्टेट बैंक की अगुवाई में बैंकों के समूह की तरफ से दायर की गई याचिका पर सुनवाई कर रहा है, जिसमें उन्होंने माल्या पर कथित रुप से 4 करोड़ डॉलर की रकम को अपने बेटे-बेटियों के खाते में स्थानांतरित किया, लेकिन उन्होंने इस रकम का इस्तेमाल बैंकों का कर्ज चुकाने में नहीं किया।

इसके साथ ही बैंकों ने कोर्ट को बताया है कि माल्या ने अपनी संपत्ति के बारे में झूठी जानकारी देकर अदालत को गुमराह किया।

यूपी विधानसभा में मिले विस्फोटक की जांच NIA करेः योगी आदित्यनाथ

RELATED TAG: Vijay Mallya, Supreme Court, Contempt Case, Kingfisher Airlines,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो