Breaking
  • रोटोमैक कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी के खिलाफ CBI ने दर्ज किया केस, छापेमारी शुरू

नीति आयोग के CEO बोले- तेल कंपनियां भी चाहती हैं GST में शामिल होना

  |  Updated On : October 10, 2017 04:49 AM
नीति आयोग (फाइल फोटो)

नीति आयोग (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा है कि रिलायंस इंडस्ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी सहित कई वैश्विक और भारतीय तेल कंपनियों के प्रमुख पेट्रोलियम उत्पादों को वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) में शामिल करने के पक्ष में हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और तेल कंपनियों के सीईओ की सोमवार को हुई बैठक का ब्योरा देते हुए कांत ने कहा कि वैश्विक कंपनियां जैसे सऊदी की एरेम्को और मॉस्को की बड़ी तेल कंपनी रोस्नेफेट ने भारत में और निवेश की प्रतिबद्धता जताई है।

कांत ने कहा कि पीएम ने इन सभी कंपनियों को भरोसा दिया है कि केंद्र तमाम आशंकाओ पर राज्यों से चर्चा करेगा जिसे लेकर ये तेल कंपनियां 'डरी' हुई हैं।

यह भी पढ़ें: इस दिवाली चाइनीज कंपनियों का नहीं जलेगा दिया, बिक्री में 40-45% गिरावट का अंदेशा: सर्वे

पीएम मोदी ने इस बैठक में पूर्वी भारत और पूर्वोत्तर के राज्यों में विकास को लेकर मूलभूत व्यवस्था को दुरूस्त करने की बात कही। कांत ने बताया कि सभी कंपनियों के सईओ ने माना कि भारत के पास गैस-आधारित अर्थव्यवस्था को विकसित करने की क्षमता है।

इस बैठक में नीति आयोग ने 2030 तक पेट्रोलियम उत्पादों की मांग और सप्लाई सहित मौजूदा परिस्थिति और सरकार की नीतियों से संबंधित एक प्रेजेंटेशन भी दिया। इस मीटिंग में ओपेक के महासचिव मोहम्मद बारकिंदो और पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें: दिल्ली मेट्रो का किराया बढ़ा, 5 महीने में अधिकतम किराया बढ़कर दोगुना हुआ

RELATED TAG: Gst, Niti Aayog, Mukesh Ambani, Narendra Modi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो