Breaking
  • यौन अपराध रोकने के लिए महिलाओं को गैजेट्स दिलाए सरकार: मद्रास HC (पढ़ें खबर) -Read More »
  • लश्कर प्रमुख हाफिज सईद ने फिर उगली आग, बोला- भारत से लेंगे पूर्वी पाकिस्तान का बदला
  • गुजरात चुनाव से पहले डरे हार्दिक, बोले- EVM पर सौ फीसदी है शक (पढ़ें खबर) -Read More »
  • जीएसटी परिषद ने ई-वे बिल को लागू करने की दी मंजूरी

मुकेश अंबानी ने जताई उम्मीद, अगले 7 साल में दोगुनी हो जाएगी भारत की जीडीपी

  |  Updated On : December 02, 2017 12:19 PM
मुकेश अंबानी, चेयरमेन, रिलायंस इंडस्ट्रीज़ (फाइल फोटो)

मुकेश अंबानी, चेयरमेन, रिलायंस इंडस्ट्रीज़ (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

एशिया के सबसे अमीर कारोबारी मुकेश अंबानी ने कहा है कि भारत की जीडीपी अगले सात साल में दोगुनी हो जाएगी और 2030 तक यह 10 ट्रिलियन डॉलर का आंकड़ा छू लेगी।

उन्होंने कहा कि उन्हें भारत के विकास पर भरोसा है और भारत वैश्विक नेता के तौर पर उभर रहा है। मुकेश अंबानी ने आशा जताई कि भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है और 2030 तक भारत की जीडीपी 10 ट्रिलियन डॉलर से आगे निकल सकती है।

मुकेश अंबानी ने यह बात एचटी लीडरशिप समिट के दौरान कही। सम्मेलन में बोलते हुए उन्होंने याद दिलाया कि 2004 में उन्होंने आशा जताई थी कि भारत अगले 20 साल में भारत 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था को छू लेगा, तब भारत की जीडीपी 500 बिलियन डॉलर थी।

उन्होंने कहा, 'आज, यह भविष्यवाणी निश्चित है। वास्तव में, यह होगा।' उन्होंने आगे कहा, 'यह आंकड़ा 2024 से पहले ही हासिल कर लिया जाएगा।' मुकेश अंबानी ने कहा, 'अगले 10 वर्षों में अर्थव्यवस्था ट्रिपल से 7 ट्रिलियन तक पहुंच जाएगी।'

एयरटेल का ऑफर,149 रुपये में देगा अनलिमिटेड कॉलिंग

उन्होंने कहा, '21वीं सदी के मध्य तक भारत का विकास चीन के विकास से भी आगे होगा और दुनिया में सबसे आकर्षक होगा।' 

अंबानी ने कहा, 'भारत एक सर्वश्रेष्ठ और विकास का अलग मॉडल मुहैया कराएगा जो कि तकनीक, लोकतंत्र, गुड गवर्नेंस और सांस्कृतिक सामाजिक सदभावना पर आधारित समग्र विकास करेगा।'

अंबानी ने कहा कि पहली दो औद्योगिक क्रांतियों के समय पिछड़ा हुआ था लेकिन कंप्यूटर की तीसरी क्रांति के बाद इसने ध्यान आकर्षित करना शुरु किया। उन्होंने कहा, 'चौथी औद्योगिक क्रांति हम पर निर्भर है। इस क्रांति का आधार, कनेक्टिविटी, कंप्यूटिंग, डेटा और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंसी है।'

आरआईएल चेयरमेन ने कहा, 'यह मेरा दृढ़ विश्वास है कि भारत न सिर्फ चौथी क्रांति में भाग ले सकता है बल्कि नेतृत्व भी दे सकता है।' 

सभी क्षेत्रों के विकास के लिए नीति तैयार कर रही है सरकार: सुरेश प्रभु

उन्होंने कहा कि चीन के लिए जो मैन्युफैक्चरिंग ने काम किया, भारत के लिए सुपर इंटेलिजेंसी करेगी। अंबानी ने कहा, 'हमारे पास न सिर्फ मौका है तेज़ विकास करने का बल्कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंसी का मुखिया बनने का भी।'

इसके लिए मुकेश अंबानी ने भारत के कौशल पर आधारित आधार और 104 सैटेलाइट्स को भेजने वाले इसरो को एक उदाहरण के तौर पर पेश किया। उन्होंने आधार को सबसे बड़ा और सबसे परिष्कृत, बॉयोमीट्रिक आईडी सिस्टम बताया और एक साथ एक रॉकेट से 104 उपग्रहों को भेजने वाले इसरो का ज़िक्र किया। 

नोटबंदी और GST के झटके से उबरी अर्थव्यवस्था, 2017-18 की दूसरी तिमाही में 6.3% हुई GDP

रिलायंस के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि पांच साल पहले जब ज़्यादातर कारोबारी देश के बाहर निवेश कर रहे थे तब कंपनी ने देश में 60 बिलियन डॉलर निवेश करने का फैसला लिया था।

साथ ही उन्होंने कहा कि हम निवेश का क्रम आगे भी जारी रखेंगे। उन्होंने निवेशकों से भारत के विकास में मदद करने की अपील भी की।

यह भी पढ़ें: Bigg Boss 11: शिल्पा शिंदे ने विकास गुप्ता के लिए किया डांस, जानें क्यों?

कारोबार से जुड़ी ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

RELATED TAG: Mukesh Ambani, Gdp,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो