Breaking
  • गुजरात चुनाव: कांग्रेस ने दूसरी सूची जारी की, 13 उम्मीदवारों के नाम शामिल

बैंकों के लिए पैकेज सकारात्मक कदम, पहले उठाना चाहिए था: आरबीआई के पूर्व गवर्नर बिमल जालान

  |  Updated On : November 11, 2017 08:26 PM
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के पूर्व गर्वनर बिमल जालान (फाइल फोटो)

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के पूर्व गर्वनर बिमल जालान (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

सरकार द्वारा हाल ही में सरकारी बैंकों के पुर्नपूजीकरण के लिए 2.11 लाख करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के पूर्व गर्वनर बिमल जालान ने शनिवार को कहा कि इस कदम की बहुत पहले से अपेक्षा थी।

नेशनल काउंसिल ऑफ अप्लाइड इकॉनमिक रिसर्च (एनसीएईआर) द्वारा आयोजित भारतीय अर्थव्यवस्था के 2017-18 के मध्य वर्ष की समीक्षा में जालान ने कहा, 'वर्तमान परिस्थितियों में बैंकों का पुर्नपूजीकरण बहुत ही सकारात्मक कदम है। लेकिन हमने इसे पहले क्यों नहीं किया।'

उन्होंने कहा कि यह कदम 2014 में ही उठाया जाना चाहिए था और कहा कि इसमें तीन साल की देरी हुई।

उन्होंने हालांकि सरकारी बैंकों का सेहत सुधारने के लिए किए जा रहे प्रयासों की सराहना की और कहा, 'जो भी कार्रवाई की जा रही है, वे सभी बहुत ही सकारात्मक हैं।'

और पढ़ें: RBI चलाएगा जागरूकता अभियान, ग्राहकों को देगा निवेश संबंधी जानकारी

सरकारी बैंकों के बढ़ते एनपीए (फंसे हुए कर्जे) पर जालान ने कहा कि इसके तेजी से बढ़ने के कारणों का अध्ययन किया जाना चाहिए।

जालान के मुताबिक केंद्र में बहुमत सरकार होने के कारण दीर्घकालिक सुधार, कठिन सुधार, राजनीतिक सुधार, आर्थिक सुधार, प्रशासकीय सुधार और सरकारी कंपनियों में सुधार अब काफी व्यवहार्य हैं।

उन्होंने कहा कि यदि भारत को भविष्य में अपनी पूर्ण क्षमताओं का दोहन करना है तो मध्यम और दीर्घकालिक अवधि में कुछ बुनियादी मुद्दों से निपटना आवश्यक है।

जालान ने कहा, 'हमें समय पर कार्रवाई और क्रियान्वयन सुनिश्चित करना है। राजनीतिक नेतृत्व नौकरशाही और प्रशासनिक सुधारों की प्रगति की निगरानी कर सकता है।'

और पढ़ें: GST में कटौती पर BJP ने PM को तो, कांग्रेस ने राहुल को दिया क्रेडिट

RELATED TAG: Rbi, Governor, Bimal Jalan, Bank,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो