2018 तक भारत की GDP 8% संभव: संयुक्त राष्ट्र

By   |  Updated On : May 17, 2017 08:36 AM
जीडीपी (सांकेतिक फोटो)

जीडीपी (सांकेतिक फोटो)

नई दिल्ली:  

नोटंबदी के बाद नकदी की कमी से उबरते हुए भारत की अर्थव्यवस्था पर तेज़ी लौट रही है और अगले साल 2018 तक भारत की जीडीपी 8 प्रतिशत पहुंचना संभव है।

यह बात संयुक्त राष्ट्र ने अपनी रिपोर्ट में मंगलवार को कही है। संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के मुताबिक अच्छी मौद्रिक नीतियों और सुधारों के योगदान के चलते भारत की आर्थिक वृद्धि दर अगले साल करीब 8 फीसदी तक पहुंचने की संभावना है।

संयुक्त राष्ट्र ने विश्व आर्थिक स्थिति और संभावना रिपोर्ट के मध्य-2017 अपडेट में इस वर्ष की शुरुआत में अनुमानित आंकड़ा 7.6 प्रतिशत से बढ़ाकर 7.6 प्रतिशत कर दिया गया था।

ऑपरेशन क्लीन मनी वेबसाइट लॉन्च, अरुण जेटली ने कहा-ठोस सूबतों के आधार पर पड़ती है CBI और आयकर विभाग की रेड

रिपोर्ट में कहा गया है, 'नोटबंदी के कारण अस्थायी रुकावटों के बावजूद, भारत में आर्थिक स्थिति मजबूत है, राजकोषीय स्थिति अच्छी है और मौद्रिक नीतियों और महत्वपूर्ण घरेलू सुधारों का कार्यान्वयन जारी है।'

हालांकि, चालू वर्ष के लिए, आर्थिक और सामाजिक मामलों के संयुक्त राष्ट्र विभाग (यूएनडीईएसए) ने रिपोर्ट में वृद्धि दर में 0.4 प्रतिशत की कटौती के साथ 7.3 प्रतिशत कर दी है, जो कि जनवरी में 7.7 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था।

यह भी पढ़ें: Sunny Leone Birthday: सनी लियोनी की इन हॉट फोटोज को देखकर हर कोई हो जाएगा दीवाना

IPL से जुड़ी ख़बरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

RELATED TAG: Gdp, Uno,

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

अन्य ख़बरे

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो