कांग्रेस ने कहा, रियल एस्टेट को GST में लाना त्रासदपूर्ण फैसला, केंद्र कर रही है विचार

  |  Updated On : October 13, 2017 02:50 PM

ख़ास बातें
  •  कांग्रेस ने कहा कि जीएसटी के तहत रियल एस्टेट को लाना त्रासदी साबित होगी।
  •  जीएसटी परिषद की बैठक में रियल एस्टेट को जीएसटी के तहत लाए जाने पर विचार किया जा सकता है

नई दिल्ली :  

रियल एस्टेट को जीएसटी (गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स) के दायरे में लाए जाने के बारे में विचार कर रही केंद्र सरकार के प्रस्ताव पर कांग्रेस ने निशाना साधा है।

कांग्रेस ने कहा कि सरकार का यह फैसला त्रासदी साबित होगी। गुरुवार को केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा था कि 9 नवंबर को गुवाहाटी में होने वाली जीएसटी परिषद की बैठक में रियल एस्टेट को जीएसटी के तहत लाए जाने पर विचार किया जा सकता है।

कांग्रेस ने ता राजू वाघमारे ने कहा, 'बीजेपी और अरुण जेटली ने देश को बर्बाद करने का फैसला कर लिया है। पहले से ही रियल एस्टेट में भगदड़ की स्थिति है और ऐसे में इसे जीएसटी के तहत लाया जाना त्रासदी होगी।'

रियल एस्टेट को जीएसटी के दायरे में लाने पर होगी चर्चा: जेटली

वहीं पार्टी के एक अन्य नेता टॉम वडक्कन ने कहा कि सरकार को इस बारे में फैसला लेने से पहले सभी हितधारकों और विपक्षी दलों को भरोसे में लेना चाहिए।

वाशिंगटन में 'एनुअल महिंद्रा लेक्चर' में कहा था, 'भारत में एक ऐसा सेक्टर है जहां सबसे अधिक कर की चोरी होती है और नकदी में कारोबार होता है और यह क्षेत्र अभी भी जीएसटी से बाहर है। कुछ राज्य इसे जीएसटी में लाने का दबाव बना रहे हैं। मेरा निजी तौर पर मानना है कि रियल एस्टेट को जीएसटी में लाया जाना चाहिए।'

देश में एक जुलाई से जीएसटी लागू किया जा चुका है।

रोहिंग्या शरणार्थियों की किस्मत पर आज होगा SC में फैसला

RELATED TAG: Congress, Gst, Gst Real Estate, Goods And Services Tax, Guwahati, Gst Council,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो