Breaking
  • बिहार के समस्तीपुर में पुलिस फायरिंग में एक की मौत, गुस्साए लोगों ने 20 गाड़ियां फूंकी
  • सॉलिसिटर जनरल रंजीत कुमार ने दिया इस्तीफा
  • हिमाचल प्रदेश चुनाव के लिए वीरभद्र सिंह ने दाखिल किया नामांकन
  • पटाखों पर बैन के बाद भी दिल्ली में बढ़ा नौ गुना प्रदूषण का स्तर -Read More »
  • दिवाली के मौके पर यूसुफ पठान ने जवानों को खिलाई मिठाई, पढ़ें सोशल मीडिया की प्रतिक्रिया -Read More »
  • तमिलनाडु में नागपट्टिनम बस अड्डे की वेटिंग रूम की छत गिरी, 8 की मौत

GST की आधी-अधूरी तैयारियों से खफा स्वामी, कहा-बर्खास्त किया जाए GSTN चेयरमैन

By   |  Updated On : June 20, 2017 11:16 PM
बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी (फाइल फोटो)

बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  औद्योगिक संगठन एसोचैम के बाद अब बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने जीएसटी को लेकर मोर्चा खोल दिया है
  •  सरकार द्वारा जीएसटी नेटवर्क का अधिग्रहण किए जाने की अपील करते हुए उन्होंने इसके चेयरमैन को बर्खास्त किए जाने की मांग की है

नई दिल्ली:  

औद्योगिक संगठन एसोचैम के बाद अब बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी) सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने जीएसटी को लेकर मोर्चा खोल दिया है।

सरकार द्वारा जीएसटी नेटवर्क का अधिग्रहण किए जाने की अपील करते हुए उन्होंने इसके चेयरमैन को बर्खास्त किए जाने की मांग की है। स्वामी ने कहा, 'मुझे लगता है कि सरकार को जीएसटीएन का टेकओवर करते हुए इसके चेयरमैन को पद से हटा देना चाहिए।'

उन्होंने कहा कि आईटी कंपनी इंफोसिस कह चुकी है कि वह जीएसटी के लिए जरूरी कंप्यूटर प्रोग्राम को 1 जुलाई तक पूरा नहीं कर सकती है। यह हमारे लिए बड़ा झटका है।

सरकार 1 जुलाई से जीएसटी को लागू करने जा रही है। स्वामी का यह बयान वैसे समय में आया है जब औद्योगिक संगठन एसोचैम केंद्र सरकार से जीएसटी को लागू करने की डेडलाइन को आगे बढ़ाने की मांग कर चुकी है।

एसोचैम की जीएसटी को टालने की मांग, अरुण जेटली को लिखा खत

जीएसटी को एक जुलाई से लागू किया जाना है। एसोचैम के महासचिव डी. एस. रावत ने वित्तमंत्री अरुण जेटली को लिखे एक पत्र में कहा था, 'एसोचैम सरकार की जल्द से जल्द जीएसटी लागू करने की प्रयास की सराहना करता है। हम विशिष्ट उद्योगों की चिंताओं को दूर करने के लिए कार्यसमूहों की स्थापना की भी सराहना करते हैं।'

इस पत्र में कहा गया है, 'जीएसटी के मोर्चे पर महत्वपूर्ण काम किया गया। हालांकि अभी भी कई मुद्दे हैं, जिन्हें जीएसटी लागू करने से पहले सुलझाना जरूरी है।'

एसोचैम ने जीएसटीएन (जीएसटी नेटवर्क) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के उस बयान का हवाला दिया, जिसमें कहा गया था कि एक जुलाई तक नेटवर्क पूरी तरह से काम नहीं भी कर सकता है।

जीएसटीएन के सीईओ नवीन कुमार ने कहा था कि जीएसटी को लागू करने लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है हालांकि ई-वे बिल को लेकर अभी भी काम किया जा रहा है और इसे पूरा करने में 2-3 महीनों का समय लगेगा।

इससे पहले बंगाल के वित्त मंत्री अमित मित्रा भी जीएसटी को लागू किए जाने की डेडलाइन को करीब एक महीने तक आगे बढ़ाने की अपील कर चुके हैं। हालांकि सरकार यह साफ कर चुकी है कि वह 1 जुलाई से देश में जीएसटी लागू कर देगी।

राजस्व सचिव अधिया ने जीएसटी लागू करने की समयसीमा बढ़ाने की खबरों को किया खारिज

RELATED TAG: Gst, Gstn, Subramanian Swamy, Arun Jaitley,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो