1991 के आर्थिक सुधारों ने भारत को बनाया वैश्विक अर्थव्यवस्था का लीडर: पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

  |   Updated On : August 09, 2018 06:06 PM
पूर्व पीएम मनमोहन सिंह (फाइल फोटो)

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) की 25 वीं वर्षगांठ के मौके पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने वैसे लोगों पर निशाना साधा जो आज से 25 पहले भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर सरकार के उठाए कदमों की आलोचना करते थे। उन्होंने कहा साल 1991 में आर्थिक सुधारों के लिए उठाए गए कदमों ने आज भारत को वैश्विक अर्थव्यवस्था का लीडर बना दिया है। एनएसई की तारीफ करते हुए पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा, 'यह देश का सौभाग्य है कि हमारी अर्थव्यवस्था पर शक करने वाले गलत साबित हुए। मुझे पूरी उम्मीद है कि देश के आर्थिक विकास को मजबूत करने में और वैश्विक अर्थव्यवस्था में कदम से कदम मिलाए रखने में एऩएसई मदद करता रहेगा।'

उन्होंने कहा कि साल 1991 में और उसके बाद के सालों में सुधारों की नींव पर ही भारत आज दुनियाभर में सबसे तेजी से विकास कर रही अर्थव्यवस्था बन कर उभरा है। खासबात यह है कि जब मनमोहन सिंह देश के वित्त मंत्री थे उसकी वक्त एनएसई का उदघाटन हुआ था।

और पढ़ें: फ्लिपकार्ट सौदे में कर देनदारी का पता लगाने के लिये आयकर विभाग जा सकती है वॉलमार्ट

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी अपनी तरफ से एनएसई को बधाई संदेश भेजते हुए कहा कि एनएसई देश की बड़ी और महत्वपूर्ण संस्थाओं में से एक है। मुझे उम्मीद है कि एनएसई निवेशकों में जागरुकता पैदा करता रहेगा और देश के लोगों में बचत की संस्कृति को बढ़ावा देगा।

और पढ़ें: बैंकिंग शेयरों में बढ़त से सेंसेक्स पहली बार 38000 के पार, निफ्टी 11471 पर बंद

एनएसई के इस कार्यक्रम में में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, नीति आयोग के वाइस चेयरमैन राजीव कुमार और दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल मौजूद थे।

RELATED TAG: Manmohan Singh, National Stock Exchange, Nse,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो