एमसीडी चुनाव के बाद अरविंद केजरीवाल को AAP टूटने का डर, पार्षदों को दिलाई विश्वासघात न करने की शपथ

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को पार्टी के नवनिर्वाचित पार्षदों से मुलाकात की और उनसे 'पार्टी से विश्वासघात न करने का' अनुरोध किया।

  |   Updated On : April 28, 2017 07:59 AM
अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया (फाइल फोटो)

अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  केजरीवाल ने आप के पार्षदों से कहा, पार्टी से विश्वासघात न करें
  •  केजरीवाल का दावा, बीजेपी उनकी पार्टी को तोड़ने की पुरजोर कोशिश कर रही है
  •  आप संयोजक ने पार्षदों को दी सलाह, हमेशा अपने मोबाइल की रिकॉर्डिग ऑन रखिए

नई दिल्ली:  

दिल्ली नगर निगम चुनाव (एमसीडी) परिणाम के बाद आम आदमी पार्टी (आप) में लगातार बगावत के स्वर उठ रहे हैं। इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को पार्टी के नवनिर्वाचित पार्षदों से मुलाकात की और उनसे 'पार्टी से विश्वासघात न करने का' अनुरोध किया।

आप पार्षदों को अपने आवास पर संबोधित करते हुए केजरीवाल ने उनसे ईमानदारी की शपथ ली और उन्हें लालच में न फंसने और भ्रष्टाचार में संलिप्त न होने के प्रति चेताया। उन्होंने कहा कि दिल्ली के तीनों नगर निगमों में 'सर्वाधिक भ्रष्टाचार' है।

केजरीवाल ने दावा किया है कि बीजेपी उनकी पार्टी को तोड़ने की पुरजोर कोशिश कर रही है, लेकिन वे एकजुट रहेंगे। केजरीवाल ने कहा, 'हमेशा अपने मोबाइल की रिकॉर्डिग ऑन रखिए, ताकि हमें पता चल सके कि इस तरह की कोशिशें हो रही हैं।'

केजरीवाल ने आप पार्षदों से दिल्ली नगर निगम में भ्रष्टाचार पर लगाने के लिए आवाज बुलंद करने के लिए भी कहा।

उन्होंने कहा, 'यह पार्टी भ्रष्टाचार के खिलाफ शुरू हुए अभियान से खड़ी हुई है, इसलिए आपसे अनुरोध है कि पूरी ईमानदारी दिखाएं। ईमानदारी के साथ-साथ एमसीडी में भ्रष्टाचारों के खिलाफ आवाज उठाने का साहस भी दिखाएं। वे (बीजेपी) आपको जेल भेजने की कोशिश कर सकते हैं या आपकी आवाज दबाने की कोशिश कर सकते हैं, लेकिन डरें नहीं।'

और पढ़ें: MCD चुनाव में हार के बाद मीडिया पर भड़के AAP नेता संजय सिंह, कहा पार्टी को खत्म करने पर तुली है टीवी

केजरीवाल ने नवनिर्वाचित आप पार्षदों से किसी अन्य पार्टी द्वारा भारी कीमत की पेशकश मिलने पर भी भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन को न छोड़ने का आग्रह किया।

केजरीवाल ने कहा, 'यह बहुत ही पवित्र आंदोलन है। अगर आम आदमी पार्टी को आप छोड़ देंगे, इस आंदोलन को छोड़ देंगे, तो लोग कभी खुश नहीं होंगे।'

केजरीवाल ने आप पार्षदों से चुनाव के दौरान पार्टी के लिए प्रचार कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं की बातों पर भी ध्यान देने के लिए कहा।

उन्होंने कहा, 'पार्टी कार्यकर्ता अपने इलाकों में काम करवाने के लिए आपके पास आएंगे। अगर आप उनका काम नहीं करेंगे, तो वे अपने इलाके में मुंह दिखाने लायक नहीं रहेंगे, जहां उन्होंने आपके लिए वोट मांगे। इसलिए उनकी बातों को सुनें और उनका काम करें।'

और पढ़ें: दिलीप पांडे के बाद संजय सिंह ने दिया इस्तीफा, एमसीडी चुनाव में आप की हार के बाद इस्तीफों का दौर शुरू

दिल्ली के तीनों नगर निगमों में नियुक्त सफाई कर्मियों की अहमियत पर जोर देते हुए केजरीवाल ने अपने पार्षदों से सफाईकर्मियों से परिवार के सदस्य जैसा बर्ताव करने का सुझाव दिया।

केजरीवाल ने कहा, 'वे गरीब हैं और प्रताड़ित हैं, इसलिए उनके साथ अपने परिवार के सदस्य जैसा व्यवहार करें। सफाईकर्मियों के बीच अपनी अच्छी छवि बनाएं।'

दिल्ली निकाय चुनाव के लिए बीते रविवार को मतदान हुआ और बुधवार को मतगणना हुई, जिसमें बीजेपी ने 270 में से 181 सीटें जीतते हुए शानदार कामयाबी हासिल की। आप को 48 वार्डो में जीत हासिल हुई है, जबकि कांग्रेस के हिस्से 30 सीटें आई हैं।

एमसीडी चुनाव से जड़ी हर बड़ी खबर के लिए यहां क्लिक करें

First Published: Thursday, April 27, 2017 07:04 PM

RELATED TAG: Mcd Election Results, Arvind Kejriwal, Aap,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो