Breaking
  • इंफोसिस के शेयरों की जबरदस्त पिटाई से लुढ़का सेंसेक्स और निफ्टी, सिक्का के इस्तीफे ने बिगाड़ी इं -Read More »
  • विमान रद्द किए जाने की ख़बर को इंडिगो ने किया ख़ारिज़
  • इंजन खराबी को लेकर इंडिगो ने रद्द किए 84 फ्लाइट्स -Read More »
  • गोरखपुर हादसे पर इलाहाबाद हाई कोर्ट में 29 अगस्त को होगी अगली सुनवाई
  • सुप्रीम कोर्ट ने दिया कार्ति चिदंबरम को CBI के समक्ष पेश होने का आदेश -Read More »
  • नारायणमूर्ति को जिम्मेदार बताते हुए सिक्का ने इंफोसिस से दिया इस्तीफा, पढ़ें पूरा लेटर -Read More »
  • जन्मदिन विशेष: 'गुलज़ार', ज़िंदगी के एहसास को नज़्मों में पिरोने वाला शख़्स -Read More »
  • इंफोसिस के सीईओ और एमडी पद से विशाल सिक्का का इस्तीफा -Read More »
  • स्पेन: बार्सिलोना आतंकी हमले में 13 लोगों की मौत, जवाबी कार्रवाई में 4 आतंकी ढेर, ISIS ने ली जिम्मेदारी

दिल्ली: बिजली चोरी रोकने गये अधिकारियों पर भीड़ का हमला, इंजीनियर की मौत, पुलिस बनी मूकदर्शक

By   |  Updated On : July 18, 2017 10:03 AM
बिजली चोरी रोकने गये अधिकारियों पर भीड़ का हमला (फाइल फोटो)

बिजली चोरी रोकने गये अधिकारियों पर भीड़ का हमला (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

दिल्ली के जफरपुर कलां इलाके में भीड़ ने बिजली चोरी रोकने गये बीएसईएस के एक दल पर हमला कर दिया जिसमें एक युवा इंजीनियर की मौत हो गई। इस मौके पर दिल्ली पुलिस भी मौजूद थी।

बिजली वितरण कंपनियों (डिसकॉम) के प्रवक्ता ने सोमवार को कहा, 'पहले झुलझुली गांव (पश्चिमी दिल्ली) में जांच टीम पर क्रूरतापूर्वक हमला किया गया, जिससे उन्हें पीछे हटने पर मजबूर होना पड़ा। जब टीम सदस्य वापस लौट रहे थे तो बाइक पर सवार गुंडों ने उनका पीछा किया। इस भगदड़ में दल की कार पेड़ से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गई और कार सवार सभी पांच लोग घायल हो गए।'

बयान में कहा गया, 'उनमें से एक युवा इंजीनियर की बाद में गंभीर चोटों के कारण मौत हो गई।'

बीएसईएस ने कहा कि बिजली चोरी रोकने में पहली बार कंपनी के किसी की जान गई है। दिल्ली पुलिस के साथ होने के बावजूद यह दुखद घटना हुई। झुलझुली गांव में बड़े पैमाने पर बिजली चोरी हो रही है। उसकी जांच के लिए तीन दल वहां गए थे। यह गांव जाफरपुर क्षेत्र में पड़ता है।

बयान में कहा गया, 'हमला इतना भीषण था कि एक बार फिर दिल्ली पुलिस की मौजूदगी भीड़ को हमला करने से नहीं रोक सकी।'

और पढ़ें: सिगरेट बनाने वाली कंपनियों को झटका, GST काउंसिल ने सेस में किया इजाफा

पिछले महीने भी पश्चिमी दिल्ली में बिजली चोरी रोकने गई बीएसईएस की टीम और दिल्ली पुलिस की टीम पर हमला हुआ था, जिसमें कई अधिकारी घायल हुए थे और कई वाहनों को नुकसान पहुंचा था।

बीएसईएस ने कहा कि जाफरपुर क्षेत्र में पिछले पांच सालों में बिजली चोरी के 14,000 मामले पकड़े गए, जिनका कनेक्शन लोड 33,000 केवी था। इसके बाद दूसरे नंबर पर मुंडका क्षेत्र है।

और पढ़ें: नारायण मूर्ति बोले, इंफोसिस का चेयरमैन पद छोड़ने पर अब है अफसोस

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो