आरुषि हत्याकांड: हाई कोर्ट ने तलवार दंपति को किया बरी, नुपुर ने कहा-हमें न्याय मिला

  |  Updated On : October 12, 2017 04:16 PM
ख़ास बातें
  •  मई 2008 में 14 साल की आरुषि का शव मिला था
  •  CBI कोर्ट ने आरुषि के माता को दोषी मानकर उम्रकैद की सजा सुनाई थी

New Delhi:  

आरुषि-हेमराज मर्डर मामले में तलवार दंपति को इलाहाबाद हाई कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने गुरुवार को तलवार दंपति को राहत देते हुए बरी कर दिया है। इलाहाबाद हाई कोर्ट के फैसले के बाद जेल में बंद मां नुपुर तलवार ने कहा- हमें न्याय मिला है।  

बता दें कि इससे पहले सीबीआई कोर्ट ने तलवार दंपति को आरुषि और हेमराज के मर्डर के मामले में दोषी ठहराया था। इसके बाद तलवार दंपति ने हाई कोर्ट में अपील की थी और सीबीआई जांच पर सवाल उठाए थे। 

इस फैसले के बाद तलवार दंपति अब जेल से रिहा होंगे। हाई कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि दोनों के खिलाफ सीधे तौर पर कोई ठोस सबूत नहीं हैं।

LIVE UPDATES:

# राजेश और नुपुर तलवार को बरी कर दिया गया है, शुक्रवार को हो सकते हैं रिहा: तलवार दंपत्ति के वकील

# हम आरुषी हत्या मामले में इलााहबाद हाई कोर्ट के फैसले  की कॉपी का इंतज़ार कर रहे हैं। उसको पढ़ने के बाद ही हम आगे की कार्रवाई पर फैसला  करेंगे: सीबीआई

# इलाहाबाद हाईकोर्ट ने तलवार दंपत्ति को आरुषी की हत्या में किया बरी

# इलाहाबाद हाईकोर्ट ने तलवार आरुषी हत्या मामले में सीबीआई के फैसले को किया दरकिनार 

बता दें कि जस्टिस बीके नारायण और जस्टिस एके मिश्रा की बेंच ने तलवार दंपति की अपील पर सुनवाई 7 सितंबर को पूरी कर फैसला सुरक्षित रख लिया था।

और पढे़ं: आरुषि हत्याकांड मामले में इलाहाबाद हाई कोर्ट का फैसला थोड़ी देर में, जानिए कब क्या हुआ

नोएडा के जलवायु विहार स्थित फ्लैट में मई 2008 में 14 साल की आरुषि का शव मिला था। अगले ही दिन बाद घर की छत पर नौकर हेमराज का शव मिला। मामले में सीबीआई ने जांच की थी।

सीबीआई के हाथों जांच जाने से पहले यूपी पुलिस ने मामले की जांच की थी, जिसमें खासी मशक्कत करनी पड़ी थी। जांच को लेकर पुलिस लंबे समय तक किसी भी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई थी जिसके कारण उसे आलोचना का शिकार भी होना पड़ा था। जिसके बाद मामले की जांच सीबीआई को सौंपी गई थी।

और पढे़ं: तलवार दंपत्ति की अपील पर इलाहाबाद हाई कोर्ट आज सुनाएगा फैसला

गाजियाबाद स्थित सीबीआई की विशेष अदालत ने 26 नवंबर, 2013 को डॉ. राजेश तलवार और डॉ. नुपुर तलवार को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। कोर्ट के इस आदेश के खिलाफ तलवार दंपति ने हाई कोर्ट का दरवाजा खट-खटाया था। तलवार दंपति इस समय गाजियाबाद की डासना जेल में सजा काट रहे हैं।

RELATED TAG: Allahabad, Allahabad High Court, High Court Verdict, Aarushi Talwar, Aarushi Talwar Murder Case,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो