दिल्ली: मां-बाप से बदला लेने के लिए बच्चे की हत्या, शव को बांध कर अलमारी में रखा

  |   Updated On : February 13, 2018 09:39 PM
सांकेतिक फोटो

सांकेतिक फोटो

नई दिल्ली:  

एक युवक ने दिल्ली में माता-पिता से बदला लेने के लिए उनके सात वर्षीय बच्चे की हत्या कर दी। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

पुलिस ने कहा कि आरोपी अवधेश को सोमवार रात गिरफ्तार किया गया। वह पीड़ित परिवार से परिचित है और दूर का रिश्तेदार है। वह पश्चिम दिल्ली के स्वरूप नगर में आशीष नाम के सात वर्षीय बच्चे के घर के पास रहता था।

पुलिस उपायुक्त असलम खान ने मीडिया को बताया, 'अवधेश ने पुलिस से कहा कि आशीष के माता-पिता उसकी अनुपस्थिति में उसकी बुराई करते थे और उसका घर में आना पसंद नहीं करते थे।'

उन्होंने कहा, 'उसने आशीष की हत्या की, शव को बांध कर अलमारी में रख दिया और बच्चे के परिवार का शुभचिंतक बनने का नाटक करता रहा।'

उन्होंने कहा, 'उसने शव को ठिकाने लगाने की कोशिश नहीं की, क्योंकि उसे पता था कि रास्ते में सीसीटीवी लगे हुए हैं। घर से दरुगध आने पर पूछे जाने पर, उसने मरे हुए चूहे को दिखा दिया।'

और पढ़ें: सुंजवान हमले में छठे जवान का शव बरामद, मृतकों की संख्या बढ़कर 7

पुलिस अधिकारी ने कहा, 'हमने शव बरामद कर लिया है और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।'

अवधेश ने आशीष के परिवार को यह भी झूठ बोला था कि वह केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) में काम करता है। उसने पुलिस को बताया कि वह प्रतियोगी परिक्षाओं की तैयारी कर रहा था और एक बार यूपीएससी परीक्षा में भी बैठा था।

पुलिस ने कहा कि 7 जनवरी को आशीष के लापता होने के बाद अवधेश ने आशीष के दादा के साथ इस बारे में स्वरूप नगर पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट लिखवाई थी। अवधेश ने किसी भी प्रकार की शक की गुंजाइश टालने के लिए ऐसा किया था।

खान ने कहा, 'जांच के दौरान, पुलिस टीम ने सभी सीसीटीवी फुटेज को खंगाला, स्थानीय लोगों से मदद ली लेकिन लापता बच्चे का कोई सुराग नहीं मिला।'

उन्होंने कहा, 'बच्चे के गुमशदगी के बाद कोई भी फोन नहीं आया, इसलिए हमने अपहरण के अलावा अन्य संभावनाओं को तलाशना शुरू कर दिया। अवधेश ने पुलिस के समक्ष खुद को आत्मविश्वास से पेश किया। पुलिस टीम ने आशीष के परिजनों के अलावा उसका भी बयान रिकार्ड किया था।'

किराने की दुकान चलाने वाले पीड़ित के पिता को तीन दिनों से अवधेश के घर नहीं आने पर उस पर शक हुआ। उसका आशीष के घर हमेश आना-जाना लगा रहता था।

अधिकारी ने कहा, 'पीड़ित के परिजनों ने पुलिस को इस बारे में सूचित किया और दोबारा पूछताछ के दौरान, वह टूट गया और अपना गुनाह कबूल कर लिया।'

और पढ़ेंः केरल में यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ता की हत्या, कांग्रेस का लेफ्ट समर्थकों पर आरोप

RELATED TAG: Killing Of Child, Murder Of Son, Revenge With Parents, Delhi, Awadhesh, Ashish, News In Hindi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो