Child Pornography रैकेट केस में सीबीआई का खुलासा, व्हाट्सएप ग्रुप में 40 देशों के 119 सदस्य थे शामिल

  |   Updated On : March 13, 2018 11:19 PM
प्रतीकात्मक चित्र

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:  

चाइल्ड पॉर्नोग्राफी रैकेट केस में सीबीआई ने एक नया खुलासा किया है। सीबीआई ने ऐसे वॉट्सऐप ग्रुप का पता लगाया है जिसमें 40 देशों के 119 लोग जुड़े थे। इस गिरोह के 66 सदस्य भारत, 56 पाकिस्तान से और 29 अमेरिका से थे।

आपको बता दें कि सीबीआई ने 23 फरवरी को एक इंटरनेशनल चाइल्ड पोर्नोग्राफी रैकेट का पर्दाफाश किया था। इस दौरान घटनास्थल से मिले इलेक्ट्रनिक उपकरणों की फारेंसिक जांच हो चुकी है।

चाइल्ड पोर्नोग्राफी का यह रैकेट एक वॉट्सऐप ग्रुप KidsXXX नाम के जरिए चल रहा था। इस ग्रुप में बच्चो से जुड़े पोर्न वीडियो/ फोटो शेयर किए जाते थे।

यह भी पढ़ें : आधार पर सुप्रीम कोर्ट ने दी बड़ी राहत, फैसला आने तक लिंक कराने की डेडलाइन बढ़ाई

सीबीआई के अनुसार इस ग्रुप के पांच एडमिन भारत से थे, जिनमें से कन्नौज के रहने वाले निखिल वर्मा को पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया है। अन्य चार आरोपी सत्येंद्र ओमप्रकाश चौहान (मुंबई), नफीस रेजा (दिल्ली), जाहिद (दिल्ली) और आदर्श (नोएडा) हैं।

आरोपियों के घर से लैपटॉप, टैबलेट, हार्डडिस्क और मोबाइल फोन बरामद किए गए हैं, जिसमें बच्चों से जुड़े अश्लील वीडियो और तस्वीरें हैं।

गौरतलब है कि यह एक मास्टर ग्रुप की तरह काम करता था जिसमें लोग पॉर्न अपलोड करते थे और दूसरे लोग वहां से वीडियो डाउनलोड करके डिस्ट्रीब्यूट करते थे।

भारत के अलावा यूएसए, चीन, मेक्सिको, अफगानिस्तान, ब्राजील, पाकिस्तान, श्रीलंका, नाइजीरिया, केन्या जैसे देशों के लोग भी इस ग्रुप में शामिल थे।

यह भी पढ़ें : INX मीडिया केस : कार्ति चिदंबरम की जमानत याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट ने CBI से मांगा जवाब

RELATED TAG: Child Pornography Case, Interpol, Cbi Launches Worldwide Probe,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो