दिल्ली: 113 मामलों में अपराधी महिला गैंगस्टर गिरफ्तार

पुलिस के हत्थे चढ़ी बसीरन (62) को उसके गैंग के सदस्य 'मम्मी' के नाम से बुलाते थे। उसके आठों बेटे भी उसके साथ कठोर अपराधों में शामिल थे

  |   Updated On : August 19, 2018 09:08 AM
बसीरन (62) महिला गैंगस्टर को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया(एएनआई)

बसीरन (62) महिला गैंगस्टर को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया(एएनआई)

नई दिल्ली:  

एक महिला गैंगस्टर जिसकी 113 अपराध के मामलों में पुलिस को तलाश थी, जोकि दिल्ली की पांच खूंखार महिला अपराधियों में से एक थी, उसे शनिवार की सुबह गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस के हत्थे चढ़ी बसीरन (62) को उसके गैंग के सदस्य 'मम्मी' के नाम से बुलाते थे। उसके आठों बेटे भी उसके साथ कठोर अपराधों में शामिल थे, जिसमें हत्या, ठेके पर हत्या, डकैती, शराब की तस्करी से लेकर छीनाझपटी तक के मामले शामिल हैं।

बसीरन अपने गृह प्रदेश राजस्थान से 45 साल पहले दक्षिण दिल्ली आई थी और झुग्गी झोपड़ियों में अवैध शराब बेचती थी, वह छोटे-मोटे अपराध से शुरुआत करते हुए अपराध की दुनिया में शामिल हुई। 

यह भी देखें-  केरल बाढ़ में अब तक 2100 करोड़ का नुकसान, 357 लोग गवां चुके है जान, भारतीय नौसेना ने 'ऑपरेशन मदद' किया तेज

पुलिस उपायुक्त रोमिल बानिया ने कहा, 'संगम बिहार से मिली गुप्त सूचना के आधार पर बसीरन को गिरफ्तार किया गया, जब वह अपने परिवार से मिलने वहां आई थी। वह एक मामले में पिछले आठ महीनों से फरार थी और उसे मई में कुख्यात अपराधी घोषित किया गया था।'

डीसीपी ने कहा, 'बसीरन ने पुलिस को बताया कि उसने और उसके गैंग के सदस्यों आकाश और विकास ने उत्तर प्रदेश निवासी मिराज को मारने का उसकी सौतेली बहन मुन्नी बेगम से 60,000 रुपये में ठेका लिया था। मुन्नी ही मिराज को बसीरन के संगम विहार स्थित घर पर 2017 में 9 सितंबर को लेकर आई थी। उसके बाद आकाश, विकास, नीरज और एक किशोर ने मिराज को शराब के नशे में जंगल ले जाकर उसकी गला घोंट कर हत्या कर दी और बाद में शव को जला दिया।'

पुलिस को इस अपराध के एक हफ्ते बाद पता चला, जब एक आदमी शौचालय के लिए जंगल गया और उसने शव के अवशेष देखे। 

पुलिस ने उसके बाद किशोर को गिरफ्तार कर लिया, जिसने अपराध में अन्य लोगों की संलिप्तता की जानकारी दी। पुलिस ने बाकी सभी अपराधियों को इस साल जनवरी में गिरफ्तार कर लिया, लेकिन बसीरन तभी से फरार थी। 

बसीरन को एक अदालत द्वारा 25 मई को कुख्यात अपराधी घोषित किया गया और कानून के मुताबिक उसकी आवासीय संपत्तियों की कुर्की कर ली गई। 

और पढ़ें- बिहार में अटल की आलोचना करने पर प्रोफेसर हुए भीड़ के शिकार, अस्पताल में भर्ती

अधिकारी ने बताया कि इस महिला का संगम विहार के कुछ सरकारी बोरबेल्स पर भी नियंत्रण था और वह अपने दो बेटों के साथ पानी माफिया भी थी। उसमें से एक को महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण अधिनियम 1999 के तहत गिरफ्तार किया गया था। 

First Published: Sunday, August 19, 2018 08:08 AM

RELATED TAG: Women Gangster, Crime, Delhi-ncr,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो