गांगुली, सचिन, लक्ष्मण ने लिखी CoA को चिट्ठी, कहा- द्रविड़, जहीर को रवि शास्त्री पर नहीं थोपा

By   |  Updated On : July 14, 2017 08:52 AM
सीएसी ने जताई नाराजगी (फाइल फोटो)

सीएसी ने जताई नाराजगी (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  ऐसा कह गया कि रवि शास्त्री पर 'अंकुश' के लिए जहीर और द्रविड़ को बनाया गया सलाहकर कोच
  •  सीएसी के सचिन, गांगुली और लक्ष्मण का इंकार, शास्त्री से ली गई थी राय
  •  विनोद राय और अमिताभ चौधरी को लिखी चिट्टी में सीएसी ने जताई नाराजगी

नई दिल्ली:  

रवि शास्त्री के नाम पर खंडन और फिर कुछ ही देर बाद उनके नाम पर लगी मुहर ने पहले ही कई अटकलों को जन्म दे दिया था लेकिन अब क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी (सीएजी) के एक 'चिट्ठी बम' ने और विवाद खड़े कर दिए हैं।

सीएसी सदस्यों (सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण) ने कड़े शब्दों में बीसीसीआई की प्रशासकीय समिति (CoA) के चीफ विनोद राय, बीसीसीआई के कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी को खत लिखकर कहा है कि उन्होंने जहीर खान और राहुल द्रविड़ को रवि शास्त्री पर थोपा नहीं है।

सवाल उठने लगे हैं कि सीएसी को ऐसी चिट्ठी लिखने की जरूरत क्यों पड़ी? दूसरी ओर बीसीसीआई ने एक प्रेस रिलीज जारी कर सीएसी के काम की सराहना की है।

सीएसी ने अपने खत में लिखा है कि उन्हें दुख है कि ऐसा दिखाया जा रहा है कि जहीर खान और राहुल द्रविड़ को मुख्य कोच रवि शास्त्री पर थोपा गया है।

यह भी पढ़ें: विंबलडन 2017: वीनस विलियम्स 2009 के बाद पहली बार फाइनल में, सेमीफाइनल में योहाना को हराया

सीएसी ने अपने खत में लिखा है, 'हमने कई बातों को ध्यान में रखते हुए रवि शास्त्री को इस काम के लिए चुना क्योंकि वह हमें बेस्ट लगे। लेकिन साथ ही हमें लगा कि शास्त्री और अच्छी तरह भारतीय क्रिकेट के लिए काम कर सकेंगे अगर उनके साथ जहीर खान सहायक बॉलिंग कोच और राहुल द्रविड विदेश दौरों पर टेस्ट मैचों के लिए सहायक बैटिंग कोच की तरह रहें।'

चिट्ठी में आगे लिखा है कि कोच के चयन के बाद मीडिया में जिस तरह सीएसी को दिखाया गया है, उसने काफी निराश किया है। सचिन, गांगुली और लक्ष्मण ने अपने खत में लिखा है कि जहीर और द्रविड की नियुक्ति से पहले रवि शास्त्री से राय ली गई थी।

सीएसी ने अपने खत में आखिरी में लिखा है, 'हम तीनों ने अपनी पूरी क्षमता से जिंदगी भर क्रिकेट खेला और इसी चीज को हमने इस जिम्मेदारी को निभाने के लिए भी इस्तेमाल किया जो बीसीसीआई ने हमें सौंपी थी। हम शाबाशी का इंतजार नहीं कर रहे थे लेकिन जो गलत बातें कही जा रही हैं और जिस लहजे में कही जा रही हैं, उससे हम खुश नहीं हैं।'

यह भी पढ़ें: संदीप पाटिल का निशाना कहा-सचिन, सौरव, लक्ष्मण कैसे चुन सकते हैं कोच

सीएसी के दिग्गज सदस्यों ने अपनी चिट्ठी में विनोद राय को उनके उस ईमेल की याद दिलाई है जिसमें उन्होंने भारतीय टीम का कोच चुनने के लिए उन्हें फ्री-हैंड देने की बात कही थी। साथ ही सीएसी सदस्यों ने विनोद राय को पूरे मसले पर छाई गलतफहमी की स्थिति को भी साफ करने को कहा है।

सीएसी सदस्यों ने लिखा, 'यह हमारी इच्छा है कि आप सामने आए और बताएं कि कोच चुनने में कितनी पारदर्शिता रही ताकि जितनी अफवाहें चल रही हैं, वे खत्म हो सकें।'

यह भी पढ़ें: कुमार विश्वास को नोटिस भजने पर निशाने पर आये BigB, ट्विटर पर लोगों ने कुछ ऐसे दिया जवाब

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो