Breaking
  • आरजेडी कार्यकर्ताओं के हंगामे के बाद सीएम नीतीश के आवास पर बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था
  • NDA में शामिल हुई जेडी-यू, 'बागी' शरद यादव के खिलाफ नहीं हुई कार्रवाई -Read More »
  • शुक्रवार की क्लोजिंग के मुकाबले 25 फीसदी प्रीमियम पर बायबैक करेगी इंफोसिस
  • यूपी में ख़राब कानून व्यवस्था को लेकर समाजवादी पार्टी के नेताओं ने राज्यपाल से की मुलाक़ात
  • इंफोसिस के बोर्ड ने 13,000 करोड़ रुपये के बायबैक को दी मंजूरी -Read More »
  • उत्तर प्रदेश के गोरखपुर पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी
  • जम्मू-कश्मीर: शोपियां ज़िले के 9 गांवो में सुरक्षाकर्मियों ने शुरु किया सर्च ऑपरेशन

IPL में फिर जलवा बिखेरेगा चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स, पूरी हुई सज़ा

By   |  Updated On : July 14, 2017 11:57 PM
IPL में वापसी के लिए तैयार चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स

IPL में वापसी के लिए तैयार चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स

ख़ास बातें
  •  लोढ़ा कमिटी द्वारा चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स पर लगाया गया निलंबन खत्म।
  •  अब दोनों टीमें आईपीएल के आने वाले 11वें संस्करण में हिस्सा ले सकती हैं।
  •  चेन्नई ने दो बार और राजस्थान ने एक बार आईपीएल खिताब पर कब्जा जमाया है।

नई दिल्ली :  

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में स्पॉट फिक्सिंग मामले में लोढ़ा कमिटी द्वारा लीग में हिस्सा लेने से दो साल के लिए निलंबित की गई दो फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स अगले संस्करण में वापसी करने के लिए तैयार हैं।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर इस बात की पुष्टि की।

आईपीएल में हो रही गड़बड़ियों पर लगाम लगाने के लिए लोढ़ा कमिटी का गठन किया गया था। लोढ़ा कमिटी द्वारा दोनों फ्रेंचाइजी पर लगाया गया निलंबन खत्म होने के बाद अब यह दोनों आईपीएल के आने वाले 11वें संस्करण में हिस्सा ले सकती हैं।

बीसीसीआई ने कहा है, 'दोनों फ्रेंचाइजी पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित की गई लोढ़ा कमिटी द्वारा लगाए गए दो साल के निलंबन की समय सीमा पूरी हो जाने के बाद यह दोनों इंडियन प्रीमियर लीग में हिस्सा ले सकती हैं।'

चेन्नई की टीम आईपीएल के इतिहास की सबसे सबसे सफल टीम मानी जाती है। उसने अब तक दो बार खिताब पर कब्जा जमाया है। राजस्थान ने लीग के पहले संस्करण का खिताब जीता था। निलंबन के कारण यह दोनों टीमें आईपीएल के नौवें और दसवें संस्करण में नहीं खले पाई थीं।

चेन्नई की कप्तानी शुरुआती आठ चरणों में भारत के सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के हाथों में थी। एक बार फिर धोनी की आईपीएल में कप्तान के तौर पर वापसी हो सकती है।

और पढ़े: जहीर खान को 150 दिनों के लिए ही सलाहकार कोच बनाना चाहते थे गांगुली

चेन्नई और राजस्थान की गरमौजूदगी में गुजरात लांयस और राइजिंग पुणे सुपरजाएंट को बीते दो संस्करणों में खेलने का मौका मिला था। नौवें संस्करण में धोनी ने पुणे की कप्तानी की थी लेकिन दसवें संस्करण में उन्हें कप्तानी से हटा दिया गया था।

अगर बीसीसीआई खिलाड़ियों को रिटेन करने की अनुमति देती है तो ऐसी पूरी संभावना है कि चेन्नई धोनी को अपने पास ही रखे और कप्तान के तौर पर धोनी चेन्नई की जर्सी में दिखें।

इन दोनों पूर्व विजेताओं की वापसी के बाद निगाहें इस पर होंगी कि क्या आने वाले संस्करण में पुणे और गुजरात की टीमें भी खेलेंगी या फिर बीसीसीआई इन दोनों फ्रेंचाइजी को हटा देगा।

और पढ़े: BCCI ने कहा, 'जहीर-द्रविड़ की तरह ही होंगे सलाहकार कोच'

बयान में बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सी के खन्ना ने कहा, 'चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स के आने से आईपीएल को फायदा होगा। दोनों टीमों ने मैदान पर काफी सफलता हासिल की है और इनके काफी प्रशंसक रहे हैं। अब उन्हें अपनी पसंदीदा टीमों को एक बार फिर खेलते देखेने का मौका मिलेगा।'

आईपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ला ने भी दोनों टीमों का स्वागत किया है। उन्होंने कहा, 'चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स का आईपीएल के 11वें संस्करण में स्वागत करने का मुझे सौभाग्य मिल रहा है। चेन्नई सुपर सिंग्स और राजस्थान रॉयल्स के साथ हमारे अच्छे संबंध हैं। हमें उम्मीद है कि हम उनके साथ पुराना संबंध कायम रखेंगे।'

बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने कहा, 'मैं चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स का लीग में स्वागत करता हूं। मुझे उम्मीद है कि यह दोनों टीमें लीग में उसी तरह के प्रदर्शन को दोहराएंगी जिसके लिए यह जानी जाती थीं।'

और पढ़े: SGM मीटिंग में शामिल होने पर BCCI के पूर्व अध्यक्ष श्रीनिवासन और निरंजन शाह को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो