Breaking
  • बिहार के समस्तीपुर में पुलिस फायरिंग में एक की मौत, गुस्साए लोगों ने 20 गाड़ियां फूंकी
  • सॉलिसिटर जनरल रंजीत कुमार ने दिया इस्तीफा
  • हिमाचल प्रदेश चुनाव के लिए वीरभद्र सिंह ने दाखिल किया नामांकन
  • पटाखों पर बैन के बाद भी दिल्ली में बढ़ा नौ गुना प्रदूषण का स्तर -Read More »
  • दिवाली के मौके पर यूसुफ पठान ने जवानों को खिलाई मिठाई, पढ़ें सोशल मीडिया की प्रतिक्रिया -Read More »
  • तमिलनाडु में नागपट्टिनम बस अड्डे की वेटिंग रूम की छत गिरी, 8 की मौत

चैंपियंस ट्रॉफी 2017: घर पहुंचने पर पाकिस्तानी टीम का शानदार स्वागत

By   |  Updated On : June 20, 2017 05:14 PM

नई दिल्ली:  

पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी जीतकर इतिहास रचने वाली पाकिस्तानी टीम का स्वदेश वापसी पर जोरदार स्वागत हुआ है। टीम के स्वागत में प्रशंसक देर रात तक जगे रहे। पाकिस्तान ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी भारत को पिछले रविवार को फाइनल मुकाबले में 180 रनों से करारी शिकस्त दी थी। पाकिस्तान के अखबार द डॉन के मुताबिक, मंगलवार सुबह तड़के कराची और लाहौर हवाइअड्डों पर भारी भीड़ मौजूद थी।

पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद द्वारा ट्वीटर पर जारी किए गए वीडियो में वह ट्रॉफी को हाथ में लिए पाकिस्तान..पाकिस्तान के नारे लगा रहे हैं।

सरफराज ने श्रीलंका के खिलाफ अहम मुकबाले में 61 रनों की पारी खेली टीम को सेमीफाइनल में पहुंचाया था। वह और तेज गेंदबाज रूमान रईस जब अपने घर की तरफ जा रहे थे तब सुबह 4.45 बजे कराची में पूरा रास्ता भारी भीड़ से सजा था।

डॉन के मुताबिक, प्रशंसकों ने सरफराज के घर के रास्ते में 70 फुट का राष्ट्रीय ध्वज फहराया। सरफराज सिंध राज्य की सरकार द्वारा दिए गए विशेष दस्ते की देखरेख में घर पहुंचे।

हर कोई इस मौके पर सेल्फी लेने में व्यस्त था। रिपोर्ट के मुताबिक, सरफराज और रुमान को सिंध की पारंपरिक शॉल और कैप भेंट स्वरूप दी गईं। अखबार ने सरफराज के हवाले से लिखा है, 'हमने एक इतिहास रचा है। मेरा मानना है कि यह जीत भूली नहीं जाएगी।'

पाकिस्तान टीम के नौ सदस्य पहली बार चैम्पियंस ट्रॉफी खेल रहे थे। सरफराज ने अपनी टीम के युवा खिलाड़ियों का जोरदार स्वागत किया और अपनी टीम के सीनियर खिलाड़यों की प्रशंसा की।

और पढ़ेंः वर्ल्ड हॉकी लीगः इंग्लैंड की पुलिस ने सरदार सिंह से की चार घंटे तक पूछताछ

उन्होंने कहा, 'अहम मौकों पर हमारी टीम के सीनियर खिलाड़ियों ने जिम्मेदारी ली और अच्छा प्रदर्शन किया। यह पाकिस्तान के लिए अच्छी बात है कि युवा खिलाड़ियों ने अच्छा खेल दिखाया। ट्रॉफी जीतना मुश्किल था। यह टीम के संयुक्त प्रयास से मुमकिन हो सका।'

प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुने गए हसन अली, फहीम अशरफ, बाबर आजम और अहमद शाहजाद को पंजाब की सरकार ने लाहौर में फूलों का गुलदस्ता देकर स्वागत किया।

भारत से ही पहले मैच हारने के बाद पाकिस्तान ने वो विजय रथ पकड़ा, जिस पर सवार को होकर उसने दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड जैसी खिताब की प्रबल दावेदार को मात दी और फिर भारत को परास्त किया।

 और पढ़ेंः वरुण धवन ने प्रभास के साथ शेयर की ये खास फोटो, लिखा- 'इतिहास में सिर्फ दो लोग ही ऐसा कर सके हैं'

RELATED TAG: Champions Trophy 2017, Pakistan, India,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो