ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 8 विकेट से हराया, सीरीज हुआ 1-1 से बराबर

  |  Updated On : October 10, 2017 10:41 PM

ख़ास बातें
  •  ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे टी-20 मैच में मेजबान भारत को आठ विकेट से हरा दिया
  •  तीन टी-20 मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है
  •  भारत को 20 ओवरों में 118 रनों पर ढेर कर दिया था

नई दिल्ली:  

जेसन बेहरनडॉर्फ के नेतृत्व में गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने यहां नए बरसापारा क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए दूसरे टी-20 मैच में मंगलवार को भारत को आठ विकेट के से हरा दिया। इस जीत के साथ ही उसने तीन टी-20 मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है और अपनी सीरीज जीतने की उम्मीदों को जिंदा रखा है।

चार विकेट लेने वाले जेसन के आगे भारत का मजबूत बल्लेबाजी आक्रमण ताश के पत्तों की तरह ढह गया और मेजबान पूरे 20 ओवर खेलने के बाद 118 रनों पर ढेर हो गई। उसके लिए केदार जाधव ने सबसे ज्यादा 27 और हार्दिक पांड्या ने 25 रन बनाए। भारत के सात बल्लेबाज दहाई आंकड़े को भी नहीं छू सके।

आसान से लक्ष्य को मेहमान टीम ने बिना किसी परेशानी के 15.3 ओवरों में दो विकेट खोकर हासिल कर लिया। मोएजिज हेनरिक्स 62 रनों और ट्रेविस हेड 48 रनों पर नाबाद लौटे। 
ऑस्ट्रेलिया ने कप्तान डेविड वार्नर (2) और एरॉन फिंच (8) के रूप में दो विकेट खोए। यह दोनों बल्लेबाज 13 के कुल स्कोर पर ही पवेलियन लौट गए थे। वार्नर को 11 के कुल स्कोर पर जसप्रीत बुमराह ने कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच कराया। भुवनेश्वर कुमार ने फिंच को पवेलियन भेजा। 

पीएम मोदी ने माना जीडीपी घटी, लेकिन निराश होने की ज़रूरत नहीं, सरकार बदलेगी रुख़

शीर्ष दो बल्लेबाजों के आउट होने के बाद लग रहा था कि ऑस्ट्रेलिया को इस मैच को जीतने के लिए संघर्ष करना पड़ेगा, लेकिन हेड और हेनरिक्स ने तीसरे विकेट के लिए 109 रनों की साझेदारी करते हुए अपनी टीम को जीत दिलाई।

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी और उसके गेंदबाजों ने कप्तान डेविड वार्नर के फैसले को सही साबित करते हुए भारत को 20 ओवरों में 118 रनों पर ही ढेर कर दिया। 

न विराट कोहली का बल्ला चला न शिखर धवन की धमक देखने को मिली। रोहित शर्मा, महेंद्र सिंह धौनी भी सस्ते में निपट लिए। जाधव और पांड्या ने दो अहम साझेदारियों के अंजाम देते हुए भारत को 118 के स्कोर तक पहुंचाया। 

पांड्या ने कुलदीप यादव (16) के साथ आठवें विकेट के लिए 33 रनों की साझेदारी की। जाधव ने भी धौनी के साथ पांचवें विकेट के लिए 33 रन जोड़े। इन दो साझेदारियों के कारण ही भारत 100 का आंकड़ा पार कर पाने में सफल रहा। 

ऑस्ट्रेलिया की तरफ से जेसन के अलावा एडम जाम्पा ने दो विकेट लिए। नाथन कल्टर नाइल, मार्कस स्टोइनिस और एंड्रयू टाई को एक-एक सफलता मिली। एक बल्लेबाज रन आउट हुआ। 

भारत ने पहले ही ओवर में रोहित (8) और कोहली (0) जैसे बल्लेबाजों को खो दिया था। रोहित ने मैच की पहली और तीसरी गेंद पर जेसन पर दो चौके जड़े, लेकिन चौथी गेंद पर पगबाधा आउट हो गए। एक गेंद बाद कप्तान को भी अंपायर ने पगबाधा आउट करार दे दिया। 

अपना दूसरा और पारी का तीसरा ओवर फेंकने आए जेसन की पहली गेंद पर मनीष पांडे (6) ने चौका मारा, लेकिन अगली ही गेंद पर विकेटकीपर टिम पेन के हाथों लपके गए। जेसन ने ही धवन (2) की पारी का अंत किया। 

देश का राजकोषीय घाटा लक्ष्य के 96 फीसदी से अधिक

धोनी (13) से टीम को उम्मीदें थी, लेकिन जाम्पा ने उनको पेन के हाथों स्टम्प कराया। यह पहला मौका था जब धौनी टी-20 में स्टम्पिंग का शिकार हुए हैं। अच्छी लय में खेल रहे जाधव को भी जाम्पा ने बोल्ड किया। भुवनेश्वर (1) नाइल का शिकार बने। 

यहां से कुलदीप और पांड्या ने टीम को संभाला और टीम का स्कोर सौ के पार ले गए। पांड्या स्टोइनिस की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में 104 के कुल स्कोर पर आउट हुए। 
बुमराह ने एक चौके की मदद से सात रन बनाए। कुलदीप पारी की आखिरी गेंद पर भारत के आखिरी विकेट के तौर पर आउट हुए। 

RELATED TAG: Australia, India,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो