प्रियंका चोपड़ा ने सिक्किम को बताया उग्रवाद-ग्रस्त राज्य, बाद में मांगनी पड़ी माफी

  |  Updated On : September 15, 2017 08:33 AM
प्रियंका चोपड़ा (इंस्टाग्राम इमेज)

प्रियंका चोपड़ा (इंस्टाग्राम इमेज)

गंगटोक:  

सिक्किमी भाषा की फिल्म 'पाहुना' का निर्माण करने वाली अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा राज्य को उग्रवाद-ग्रस्त बताकर लोगों के निशाने पर आ गई हैं। उन्होंने माफी की मांग कर रही सिक्किम सरकार से अपने बयान के लिए माफी भी मांगी।

टोरंटो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (टीआईएफएफ) के दौरान एक साक्षात्कार में सिक्किम के बारे में बात करने के बाद, नेताओं ने गुरुवार को प्रियंका को 'राजनीतिक रूप से अशिक्षित' बताया। वह अपनी फिल्म 'पाहुना' के बारे में बात कर रहीं थी।

सिक्किम पर्यटन मंत्री यूजीन टी ग्यतोसो ने कहा, 'मुझे एक माफी पत्र मिला है। हमें इसके साथ संतुष्ट होना होगा।' उन्होंने आगे कहा, 'उन्होंने सिक्किम को भी दूसरे पूर्वोत्तर राज्यों जैसा समझा होगा। यह एक बहुत शांतिपूर्ण राज्य है।'

सिक्किम पर्यटन सचिव सी झेंपो भूटिया ने आईएएनएस से कहा, 'प्रियंका ने हमसे माफी मांगी है लेकिन हम उससे संतुष्ट नहीं है और हमने उनसे स्पष्ट रूप से माफी मांगने को कहा है।'

और पढ़ेंः प्रियंका चोपड़ा ने सिक्किम को बताया अशांत राज्य, भड़के लोगों ने सोशल मीडिया पर किया ट्रोल

यह पूछे जाने पर कि सिक्किम सरकार ने प्रियंका की टिप्पणी के बारे में कैसा महसूस किया, उन्होंने कहा, 'जो भी उसने कहा वह पूरी तरह अस्वीकार्य है। इसने हमारे राज्य की छवि को कलंकित किया है।'

सिक्किम के सांसद प्रेम दास ने कहा, 'निश्चित रूप से उनके तथ्य सही नहीं थे। सिक्किम तीन दशक तक एक विद्रोह मुक्त राज्य रहा है लेकिन वह यह नहीं जानती थी। उनकी टिप्पणी एक गलती थी और इस मुद्दे को सनसनीखेज बनाने की कोई जरूरत नहीं है।'

प्रियंका ने ईटी कनाडा को दिए अपने साक्षात्कार में कहा, 'यह एक सिक्किमी फिल्म है। सिक्किम पूर्वोत्तर भारत का एक छोटा सा राज्य है, जहां कभी कोई फिल्म उद्योग नहीं रहा या किसी ने वहां कोई फिल्म नहीं बनाई और यह उस क्षेत्र से आने वाली पहली फिल्म है, क्योंकि यह उग्रवाद और संकटपूर्ण परिस्थितियों से जूझ रहा है।'

प्रियंका के इस बयान की तुरंत ही आलोचना होने लगी।

और पढ़ेंः TRP ratings week 36: कौन बनेगा करोड़पति ने खतरों के खिलाड़ी को पछाड़ा, बना नंबर 1

सिक्किम की राजधानी गंगटोक के एक यूजर संतोष सुब्बन ने ट्वीट किया, 'प्रिय प्रियंका, सिक्किम सबसे ज्यादा शांतिपूर्ण राज्यों में से एक है। हमारे यहां कोई उग्रवाद नहीं है। कृपया जिम्मेदारी के साथ टिप्पणी करें।'

एक यूजर ताकिर हुसैन ने ट्वीट किया, 'वास्तव में सिक्किम को लेकर प्रियंका चोपड़ा के बयान पर विवाद पैदा करना मूर्खता है, क्योंकि उनकी जैसी हस्तियां 'राजनीतिक रूप से अशिक्षित' होती हैं। इससे पहले हमने देखा है कि कई हस्तियां भारत के राष्ट्रपति का नाम भी नहीं जानती हैं, इसलिए उनसे राजनीतिक रूप से सही होने की उम्मीद न करें।'

वहीं, असम के पटकथा लेखक बिश्वतोष सिन्हा ने लिखा कि सिक्किम शांतिपूर्ण राज्य है और 'पाहुना' यहां की पहली फिल्म नहीं है। पूर्वोत्तर के बारे में सही तथ्य पता कर लें।

संयोग से प्रियंका पूर्वोत्तर राज्य असम की टूरिज्म एंबेसडर भी हैं।

'पाहुना' फिल्म निर्देशक पाखी की पहली फिल्म है। इस फिल्म को प्रियंका चोपड़ा अपनी मां मधु चोपड़ा की बैनर पर्पल पेबल पिक्च र्स और सिक्किम के पर्यटन मंत्रालय के साथ मिलकर बना रहीं है।

और पढ़ेंः  भारत में मानसिक रोगों पर अभी भी खास ध्यान नहीं: IMA

RELATED TAG: Priyanka Chopra, Sikkim Insurgency Hit, Priyanka Chopra Apologies,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो