'इंदु सरकार' विवाद: मधुर भंडारकर की बढ़ी सुरक्षा, राहुल गांधी से किया सवाल

By   |  Updated On : July 17, 2017 06:03 PM
 मधुर भंडारकर (फाइल फोटो)

मधुर भंडारकर (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

फिल्म निर्देशक मधुर भंडारकर की आने वाली फिल्म 'इंदु सरकार' के लगातार विवादों में आने के कारण उनकी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। बता दें कि रविवार को नागपुर में होने वाले प्रेस कॉन्फ्रेंस को कांग्रेस नेताओं के हंगामे के कारण मजबूरन रद्द करना पड़ा था।

इस हंगामे के बाद मधुर भंडारकर ने कहा, 'मेरी बेटी और मेरा पूरा परिवार इस सबसे काफी डर गए हैं। मुझे उम्मीद नहीं थी कि ऐसा होगा। लेकिन पुणे और नागपुर के बाहर मेरे होटल के सामने डरावना माहौल बन गया था।'

बता दें कि मधुर ने राहुल गांधी को ट्वीट कर पूछा कि क्या उन्हें अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता नहीं है। उन्होंने लिखा, 'पुणे के बाद मुझे आज नागपुर में संवाददाता सम्मलेन रद्द करना पड़ा, क्या आप इस गुंडागर्दी की इजाजत देते हैं? क्या मुझे अपनी अभिव्यक्ति की आजादी मिल सकती है।'

इसे भी पढ़े: मधुर भंडारकर की 'इंदु सरकार' का ट्रेलर रिलीज, नील नितिन मुकेश का दमदार है किरदार

सेंसर ने 14 सीन पर कैंची चलाने की दी सलाह 

सेंसर बोर्ड ने फिल्म के 14 सीन्स पर कैंची चलाने को कहा है। मधुर भंडारकर ने कहा कि केंद्रीय फिल्म एवं प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) समिति ने उन्हें 'इंदु सरकार' में 14 कट लगाने को कहा है, जिसके बाद वह सकते में हैं।

 इमरजेंसी पर है अधारित

बताया जा रहा है कि 'इंदु सरकार' 1975-1977 के इमरजेंसी दौर पर आधारित है। फिल्म में नील नितिन मुकेश का किरदार इमरजेंसी के दौरान के संजय गांधी से प्रेरित बताया जा रहा है। यही वजह है कि कांग्रेस इस फिल्म की रिलीज का विरोध कर रही है। नील नितिन मुकेश, कीर्ति कुलहरि और तोता रॉय चौधरी अभिनीत यह फिल्म 28 जुलाई को रिलीज होने वाली है।

इसे भी पढ़े: कबीर बेदी ने अाखिर क्यों कहा- देश छवि को कितना नुकसान पहुंचा रहा है सेंसर बोर्ड

 

RELATED TAG: Madhur Bhandarkar,

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो