इस वजह से केरल की बजाय श्रीलंका बनता रहा है भारतीयों की पंसद

| Last Updated:

नई दिल्ली:

भारतीय ट्रैविलिंग को लेकर बहुत उत्साहित रहते है। मौसम के अनुसार देश-विदेश की यात्रा की प्लानिंग लगातार चल ही रही होती है। ऐसे में अगर आप मानसून को मजा लेने के लिए केरल जाने की सोच रहे हो, तो थोड़ा रुकिये। आप श्रीलंका जा सकते है। ये आपको सस्ता भी पड़ेगा और विदेश यात्रा भी हो जाएगी।

जी हां, सही पढ़ा आपने श्रीलंका केरल की तुलना में ज्यादा सस्ता है, क्योंकि भारतीय 1 रुपये की मुकाबले श्रीलंका के 2.30 रुपये होते है। इसके अलावा श्रीलंका का विकास हरेक मौसम के डेस्टिनेशन के रूप में हो रहा है।

यहां आपको प्राकृतिक खूबसूरती, संस्कृति, धार्मिकता से लेकर नाइट लाइफ तक सब मिल जाता है। यहीं नहीं श्रीलंका परिवार दोस्तों सभी के साथ जाने वाली जगह है।  यही कारण है कि श्रीलंका भारतीयों की खास पंसद बनता जा रहा है।

आइये हम बताते है कि आपको क्यों श्रीलंका पंसद आएगा

  • श्रीलंका टूरिज्म के सर्वे के मुताबिक श्रीलंका जाने वाले भारतीय पर्यटक का संपूर्ण अनुभव 69.1 प्रतिशत के लिए बहुत सुखद रहा है जबकि 30.69 प्रतिशत के लिए यह संतोषजनक रहा है। इसलिए यह कहना सही होगा कि श्रीलंका घूमने आने वाले लगभग 100 प्रतिशत भारतीय का अच्छा और आनंददायक दौरा रहा।
  • सर्वेक्षण की अन्य प्रमुख बातें यह हैं कि 44.84 प्रतिशत भारतीय श्रीलंका की अच्छी यादें लेकर आते हैं और वे इसे एक सुंदर देश मानते हैं।
  • सर्वे कहता है कि इसकी खास बात यह है कि 63.7 प्रतिशत भारतीय सैर सपाटे पर निकल जाते हैं और 49.82 प्रतिशत खरीदारी के लिए जबकि 41.64 प्रतिशत सी बेदिंग पसंद करते हैं और 32.74 प्रतिशत घंटों स्वीमिंग पूल में गुजारते हैं।
  • 37.01 प्रतिशत भारतीय पर्यटक श्रीलंका के ऐतिहासिक स्थलों पर जाते हैं जबकि वन्य जीवन सिर्फ 21 प्रतिशत लोगों की पसंद होती है।
  • 29.54 प्रतिशत कहते हैं कि श्रीलंका के लोग अच्छे मेजबान हैं। 24.2 प्रतिशत लोग इसके अच्छे समुद्र तट और सुनहरी रेत की चर्चा करते हैं। 24.20 प्रतिशत लोगों ने इस छोटे द्वीप के विविध आकर्षणों को पसंद किया। आज की तारीख में श्रीलंका को 30.25 प्रतिशत भारतीयों पर भारी गर्व है जो देश को अच्छी तरह जानते हैं और बार-बार घूमने आते हैं।
  • श्रीलंका भारतीयों में अब पुराने समुद्र तटों और सांस्कृतिक पहलुओं के अलावा फिल्म टूरिज्म, डेस्टिनेशन वेडिंग, धार्मिक और तीर्थयात्रा वाला पर्यटन (रामायण ट्रेल) के लिए मशहूर होता जा रहा है। 

IANS के इनपुट के साथ

इसे भी पढ़ें: क्या दिल्ली की इन जगहों पर घूमे हैं आप, जहां जुड़ा है इतिहास

First Published: