यूपी: 3700 पीएचडी होल्डर ने किया चपरासी की नौकरी के लिए आवेदन

| Last Updated:

नई दिल्ली:

यूपी के लखनऊ से हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है। जिससे बेरोजगारी और शिक्षा व्यवस्था की लचर होती परिस्थितियों का पता चलता है। यहां पुलिस विभाग ने हाल ही में चपरासी और संदेशवाहक के 62 पदों के लिए आवेदन मांगे थे। इन पदों के लिए न्यूनतम योग्यता 5वीं पास रखी गई है। पर जिन लोगों ने इन पदों के लिए आवेदन भेजे हैं उसे देख पुलिस विभाग भी हैरत में आ गया है। सबसे पहले तो 62 पदों के लिए 50 हजार से भी ज्यादा आवेदन आए हैं। आवेदकों में 50 हजार ग्रैजुएट, 28 हजार पोस्ट ग्रैजुएट और 3700 पीएचडी धारक भी शामिल हैं।

इतना ही नहीं इसमें बी.टेक और एमबीए किए हुए लोग भी शामिल है। 93,000 आवेदकों में से सिर्फ 7400 ही ऐसे हैं जिन्होंने पांचवीं से 12वीं के बीच पढ़ाई की है। पुलिस विभाग के सूत्रों ने बताया कि ये 62 पद पिछले करीब 12 सालों से खाली हैं। जिन पर अब भर्तियां की जा रही है।

बता दें कि इन पदों के लिए ज्यादा आवेदन आने के कारण इस बार सिलेक्शन टेस्ट करवाया जाएगा, जो पहले नहीं होता था। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि, 'इतनी बड़ी संख्या में आवेदन इसलिए आए होंगे क्योंकि नौकरियां मार्केट में नहीं हैं। वहीं इन पदों पर शुरुआती सैलरी भी 20 हजार के आसपास दी जाएगी।'

और पढ़ें- रेलवे भर्ती परीक्षा की ऐसे करें तैयारी, फिर नहीं होगी Negative मार्किंग

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बताया जा रहा है कि इस बार टेस्ट का पैटर्न बदला जा रहा है। इस बार टेस्ट में जनरल नॉलेज, बेसिक मैथ्स और रिजनिंग के भी सवाल होंगे।

First Published: