कसौली में गोलीबारी के शिकार दूसरे पीड़ित की भी मौत

| Last Updated:

शिमला:

हिमाचल प्रदेश के कसौली में अवैध निर्माण गिराने की मुहिम के दौरान एक अतिथि गृह के मालिक द्वारा कथित तौर पर की गई गोलीबारी के शिकार एक अन्य पीड़ित की रविवार को मौत हो गई। वह 12 दिनों से जिंदगी की जंग लड़ रहा था।

इससे पहले सोलन जिले में अवैध निर्माण गिराए जाने की मुहिम के दौरान नारायणी अतिथि गृह के मालिक विजय सिंह ने सहायक टाउन प्लानर शशि बाला शर्मा (51) की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

लोक निर्माण विभाग के कर्मचारी गुलाब सिंह एक मई को उस समय गोली लगने से घायल हो गए थे, जब विजय सिंह ने अवैध निर्माण गिराए जाने के लिए तैनात कर्मचारियों पर गोलियां चला दी थीं।

गुलाब सिंह को चंडीगढ़ में पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन व रिसर्च रेफर किया गया था, जहां उनकी मौत हो गई।

आरोपी को इस घटना के दो दिन बाद उत्तर प्रदेश के मथुरा से गिरफ्तार कर लिया गया था। वह पुलिस रिमांड पर है।

विजय सिंह ने अधिकारियों पर शीर्ष अदालत के उसके अतिथि गृह में अवैध निर्माण को गिराए जाने के आदेश के क्रियान्वयन पर जोर देने पर गोली चलाई।

शीर्ष अदालत ने कसौली इलाके के 13 होटलों व रिसॉर्ट में अवैध निर्माण को गिराए जाने का आदेश दिया था। अदालत ने गोलीबारी की घटना का स्वत: संज्ञान लिया।

इसे भी पढ़ें: कसौली मर्डर: महिला अफसर को गोलियों से भूनने वाला आरोपी गिरफ्तार

First Published: