T-10 लीग से क्रिकेट को होगा ये फायदा, शेन वॉटसन ने किया दावा !

| Last Updated:

नई दिल्ली:

आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के पूर्व हरफनमौला खिलाड़ी शेन वॉटसन का मानना है कि टी-10 का प्रारूप क्रिकेट को आधुनिक रूप से सशक्त करने में मदद करेगा। वॉटसन ने कहा कि यह प्रारूप निश्चित तौर पर क्रिकेट प्रेमियों के लिए रोमांचक प्रारूप होगा। 

संयुक्त अरब अमीरात में 23 नवम्बर से शुरू हो रही टी-10 लीग में वॉटसन को द कराचियान्स टीम का नेतृत्व करते देखा जाएगा। उनका कहना है कि टी-10 क्रिकेट के प्रशंसकों में और भी इजाफा करेगा।

और पढ़ें: भारत-वेस्टइंडीज टेस्ट सीरीज के लिए राजकोट, हैदराबाद को मिली मेजबानी  

क्रिकेट केलैंडर में टी-10 लीग के शामिल होने के बारे में पूछे जाने पर वॉटसन ने कहा, 'वर्तमान में क्रिकेट के कई प्रारूप हैं, तो मुझे नहीं लगता कि यह प्रारूप तुरंत ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शामिल हो पाएगा। हालांकि, मुझे लगता है कि इस लीग की धारणा काफी रोमांचक है और क्रिकेट को और भी रोमांचक बनाने के लिए नए प्रारूपों के लिए हमेशा इस खेल में जगह होती है।'

वॉटसन ने कहा, 'टी-20 को देख लीजिए। इस प्रारूप ने वैश्विक स्तर पर क्रिकेट को क्रांतिकारी बना दिया है। मुझे लगता है कि टी-10 भी इस खेल को और भी आधुनिक बनाएगा और निश्चित तौर पर यह दर्शकों के लिए और भी रोमांचक होगा।'

क्रिकेट की और खबरों के लिए क्लिक करें

इस लीग का हिस्सा बनने के फैसले के बारे में वॉटसन ने कहा, 'मैंने इस लीग में पिछले सीजन में खेलने वाले कुछ क्रिकेट खिलाड़ियों से बात की थी और उन्होंने मुझे सकारात्मक प्रतिक्रिया दी।'

टी-10 लीग के दूसरे सीजन में वॉटसन के अलावा, डारेन सैमी, ब्रैंडन मेक्लम, आंद्रे रसेल, राशिद खान, क्रिस लिन, इयोन मोर्गन, शोएब मलिक, सुनील नरेन जैसे क्रिकेट खिलाड़ियों को भी खेलते देखा जाएगा। 

First Published: