Asian Games 2018: भारत के प्रणब बनें स्वर्ण जीतने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी

| Last Updated:

नई दिल्ली:

भारत के प्रणब बर्धन इंडोनेशिया में हुए 18वें एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी रहे। 60 साल के बर्धन ने ब्रिज की पुरुषों की युगल स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। बर्धन ने अपने 56 वर्षीय जोड़ीदार शिबनाथ सरकार के साथ फाइनल में चीन को पछाड़ते हुए 384 अंकों के साथ स्वर्ण पदक जीता था। 

जहां तक जकार्ता में पदक जीतने वाले सबसे युवा खिलाड़ी का सवाल है तो इसका श्रेय इंडोनेशिया की बुंगा निमास सिंटा को जाता है। बुंगा ने 12 साल 138 दिन की उम्र में महिलाओं की स्केटबोर्डिग प्रतियोगिता की स्ट्रीट स्पर्धा में कांस्य पदक हासिल किया था। 

अब अगर जकार्ता में स्वर्ण जीतने वाली सबसे कम उम्र की खिलाड़ी की बात की जाए तो इसका श्रेय महिलाओं की डाइविंग प्रतियोगिता की 10 मीटर प्लेटफॉर्म सिक्रोनाइज्ड स्पर्धा में पहला स्थान हासिल करने वाली चीन की 14 वर्षीया तैराक झांग मिंजी को जाता है।

झांग ने केवल 14 साल की उम्र में यह कारनामा किया है। सबसे खास बात यह है कि उन्होंने अपने 14वें जन्मदिन पर यह उपलब्धि हासिल की। 

और पढ़ें: 15 गोल्ड, 24 सिल्वर, 30 ब्रॉन्ज जीत कर भारत ने रचा इतिहास

दूसरी ओर इन एशियाई खेलों में पदक जीतने वाले सबसे वयोवृद्ध खिलाड़ियों में इंडोनेशिया के बामबांग हार्तोनो का नाम शामिल है। उन्होंने 78 साल की उम्र में यह उपलब्धि हासिल की। बामबांग ने ब्रिज प्रतियोगिता की मिक्स्ड सुपर टीम स्पर्धा में कांस्य पदक जीता।

खेल की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें  

अमेरिका की सबसे लोकप्रिय पत्रिका 'फोर्ब्स' के अनुसार, बामबांग की कुल कमाई करीब 11.8 अरब डॉलर है। उनका इंडोनेशिया में तंबाकू, बैंकिंग और टेलिकम्यूनिकेशन का बिजनेस है।

First Published: